Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > पंजाब में मलेरकोटला को जिला बनाने पर सीएम योगी ने कांग्रेस पर बोला हमला, कहा-'ये बंटवारे की राजनीति है'

पंजाब में मलेरकोटला को जिला बनाने पर सीएम योगी ने कांग्रेस पर बोला हमला, कहा-'ये बंटवारे की राजनीति है'

पंजाब में मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र मलेरकोटला को शुक्रवार को ही कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने जिला घोषित किया है।

पंजाब में मलेरकोटला को जिला बनाने पर सीएम योगी ने कांग्रेस पर बोला हमला, कहा-ये बंटवारे की राजनीति है
X

लखनऊ: पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार के ईद पर राज्य के मलेरकोटला को 23वां जिला घोषित करने पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह कांग्रेस की बंटवारे की नीति है। पंजाब में मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र मलेरकोटला को शुक्रवार को ही कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने जिला घोषित किया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पंजाब सरकार के इस फैसले की न सिर्फ तीखी आलोचना की है, बल्कि इस काम को भारत के संविधान के विपरीत भी बताया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने पंजाब की कांग्रेस सरकार के इस फैसले के खिलाफ एक ट्वीट भी किया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मत और मजहब के आधार पर किसी प्रकार का विभेद भारत के संविधान की मूल भावना के विपरीत है। इस समय, मलेरकोटला (पंजाब) का गठन किया जाना कांग्रेस की विभाजनकारी नीति का परिचायक है।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने मुस्लिम बाहुल्य मलेरकोटला को जिला बनाया तो उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनको तगड़ी नसीहत दी है। योगी आदित्यनाथ ने उनपर हमला बोला है।ईद के अवसर पर शुक्रवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने घोषणा की थी कि मलेरकोटला राज्य का नया जिला होगा। अभी तक संगरूर जिले में मलेरकोटला मुस्लिम बहुल कस्बा था। मलेरकोटला के साथ लगे अमरगढ़ व अहमदगढ़ भी पंजाब के इस 23वें जिले का हिस्सा बनाया गया है।

पंजाब में विधानसभा चुनाव के समय जिला संगरूर जिला मुख्यालय से 35 किलोमीटर दूर मलेरकोटला को जिले का दर्जा देना कांग्रेस का चुनावी वादा था। ईद के मौके पर लोगों को बधाई देने के लिए राज्य स्तर पर ऑनलाइन तरीके से आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने मलेरकोटला के लिए 500 करोड़ रुपये की लागत से मेडिकल कॉलेज, एक महिला कॉलेज, एक नया बस स्टैंड और एक महिला पुलिस थाना बनाने की भी घोषणा की।

नये जिले की घोषणा करते हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं जानता हूं कि यह लंबे समय से लंबित मांग रही है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के वक्त पंजाब में 13 जिले थे। वर्ष 1947 में बंटवारे के दौरान मलेरकोटला में काफी हद तक शांति रही, जबकि भारत-पाकिस्तान सीमा पर सांप्रदायिक संघर्ष और बड़े पैमाने पर पलायन हुआ। उन्होंने कहा कि नए जिले में डिप्टी कमिश्नर की जल्द नियुक्ति की जाएगी। मलेरकोटला के लिए विभिन्न विकास प्रोजेक्टों का ऐलान करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा स्थानीय लड़के और लड़कियों को डॉक्टरी शिक्षा के योग्य बनाने के लिए नवाब शेर मोहम्मद खान के नाम पर 500 करोड़ रुपए की लागत से यहां पर सरकारी मेडिकल कॉलेज जल्द स्थापित होगा।

Updated : 15 May 2021 11:47 AM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top