Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > 2022 की बड़ी तैयारी, मुख्यमंत्री आदित्यनाथ बने पन्ना प्रमुख, जानिए क्या है दायित्व

2022 की बड़ी तैयारी, मुख्यमंत्री आदित्यनाथ बने पन्ना प्रमुख, जानिए क्या है दायित्व

बूथ संख्या 246 में पन्ना प्रमुख बने 'योगी आदित्यनाथ'

2022 की बड़ी तैयारी, मुख्यमंत्री आदित्यनाथ बने पन्ना प्रमुख, जानिए क्या है दायित्व
X

Photo

गोरखपुर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी है। हर विधानसभा के प्रत्येक बूथ के पन्ना प्रमुखों के नामों का चयन लगभग अंतिम चरण में चल रहा है। पार्टी ने इस बार संगठन के हर पदाधिकारी को दायित्व सौंपना शुरू किया है। यहां तक कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी पन्ना प्रमुख बनाये गए हैं। ये शहर विधानसभा क्षेत्र के बूथ संख्या 246 के पन्ना प्रमुख का दायित्व सौंपा गया है।

फिलहाल, भाजपा द्वारा अभी पार्टी के सांसदों, विधायकों और पदाधिकारियों को उनके निर्वाचन क्षेत्र में पन्ना प्रमुख का दायित्व सौंपा जा रहा है। गौरतलब है कि भाजपा महानगर के अन्तर्गत शहर और आंशिक ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में 13 हजार 800 बूथों पर 13 हजार 100 पन्ना प्रमुख बनाए गए हैं।

चुनाव के लिए आखिरी कड़ी मजबूत कर रही भाजपा -

विधानसभा चुनाव 2022 के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने चुनाव तैयारियां शुरू कर दिया है। मतदाताओं को भाजपा से जोड़ने के लिए सबसे निचली और आखिरी कड़ियों को भी मजबूत बना रही है। सबसे निचला संगठनात्मक ढांचा पन्ना प्रमुख का है। इसी को मजबूत कर भाजपा द्वारा अब चुनावी समर को फतह करने का प्रयास शुरू किया है। यही वजह है कि बूथ स्तर से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को 'पन्ना प्रमुख' की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री-विधायक को भी बनाया पन्ना प्रमुख -

भाजपा ने पूर्व केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री व सांसद शिव प्रताप शुक्ल के अलावा विधायक राधामोहन दास अग्रवाल को भी पन्ना प्रमुखों की सूची में शामिल किया है। नगर विधायक डा. राधामोहन दास अग्रवाल शहर विधानसभा क्षेत्र के बूथ संख्या 350 में पन्ना प्रमुख बनाए गए हैं।

ये है पन्ना प्रमुख का दायित्व -

मतदाता सूची के हर पन्ने के लिए एक प्रमुख बनाया जाता है। यह प्रमुख ही पन्ना प्रमुख कहलाता है। इसकी जिम्मेदारी बहुत ही बड़ी होती है। इन्हें मतदान के दिन पर्ची बांटने से लेकर मतदाताओं को बूथ तक ले आने की जिम्मेदारी होती है। पन्ना प्रमुख अपने क्षेत्र में उस पन्ने में शामिल मतदाताओं से सम्पर्क करता है। केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को बताता है। खुद व परिजनों के अलावा परिचितों से भाजपा के लिए मतदान करने का अनुरोध करता है। एक पन्ने की दोनों तरफ अंकित 30-30 मतदाताओं के से जुड़ी इन सभी औपचारिकताओं को पूरा करने का दायित्व होता है। एक बूथ पर लगभग 20-21 पन्ना प्रमुख बनाए जाते हैं।

Updated : 2021-10-25T12:45:21+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top