Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > CBI करेगी यमुना एक्सप्रेसवे घोटाले की जांच, 21 के खिलाफ केस दर्ज

CBI करेगी यमुना एक्सप्रेसवे घोटाले की जांच, 21 के खिलाफ केस दर्ज

CBI करेगी यमुना एक्सप्रेसवे घोटाले की जांच, 21 के खिलाफ केस दर्जFile Photo

CBI ने यमुना एक्सप्रेसवे अथॉरिटी घोटाले की जांच संभाली, 126 करोड़ का जमीन खरीद घोटाला

लखनऊ/नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की सरकार की सिफारिश के बाद केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने यमुना एक्सप्रेसवे अथॉरिटी घोटाले की जांच काे संभाल ली है।। जांच एजेंसी ने अपनी एफआईआर में अथॉरिटी के पूर्व सीईओ पीसी गुप्ता सहित 21 लोगों के नाम दर्ज किए हैं। सीबीआई के अधिकारियों ने बुधवार को इस संबंध में जानकारी दी है। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की सिफारिश पर एजेंसी ने 126 करोड़ रुपए के जमीन खरीद घोटाले की जांच संभाली है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने जुलाई, 2018 में इस मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। आरोप है कि यमुना एक्सप्रेस इंडस्ट्रियल डिवेलपमेंट अथॉरिटी के सीईओ गुप्ता ने अधिकारियों और कर्मचारियों को गठजोड़ बनाकर मथुरा के 7 गांवों में 19 कंपनियों की सहायता से 85.49 करोड़ रुपए में जमीन की खरीद की थी।

इसके बाद इस जमीन को अथॉरिटी को ऊंचे दामों पर बेच दिया था, इसके चलते 126 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ था।

इस मामले में आरोपी के तौर पर पुलिस ने गत दिनों ही बुलंदशहर से अजीत नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है। जांच में पाया गया कि अजीत अथॉरिटी के तत्कालीन ओएसडी का रिलेटिव है। इस मामले में अथॉरिटी के सीईओ रहे पीसी गुप्ता जेल में हैं। 15 दिसंबर को तत्कालीन एसीईओ सतीश कुमार को पुलिस ने अरेस्ट किया था। इस केस में कार्रवाई में ढील को लेकर शासन ने सख्त रुख अपनाया था।

Updated : 25 Dec 2019 7:19 AM GMT
Tags:    

Amit Senger

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top