Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > अखिलेश यादव तीसरी बार बने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, स्थापना के बाद से परिवार का कब्जा

अखिलेश यादव तीसरी बार बने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, स्थापना के बाद से परिवार का कब्जा

अखिलेश यादव तीसरी बार बने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, स्थापना के बाद से परिवार का कब्जा
X

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को लगातार तीसरी बार समाजवादी पार्टी (सपा) का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है। सपा के प्रमुख महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव ने पार्टी के दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन के दूसरे दिन गुरुवार को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर अखिलेश के निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा की। अध्यक्ष पद के चुनाव में अखिलेश के अलावा किसी अन्य नेता के नाम का प्रस्ताव नहीं आया था।


लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर स्टेडियम में आयोजित सपा के राष्ट्रीय सम्मेलन का गुरुवार को अंतिम दिन है। लगातार तीसरी बार अध्यक्ष बनने के बाद अखिलेश ने पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के प्रति आभार जताया। उन्होंने कहा की मुझे अध्यक्ष चुनकर आपने जो मुझे पर और भरोसा जताया है. उसके लिये मैं आप सबका बहुत आभारी हूं. ये पद नहीं जिम्मेदारी है और ये ऐसे समय में जिम्मेदारी मिली है जब संविधान और संस्थाएं खतरे में है. आपके सहयोग से हम लड़ेंगे और प्ररास्त करेंगे. पांच साल बाद मिले तो संकल्प लिए कि जब अगली बार मिलेंगे तो सपा को राष्ट्रीय पार्टी बनाकर मिलेंगे।

बता दें अखिलेश यादव लगातार तीसरी बार समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए है। एक जनवरी 2014 को पहली बार उन्हें पार्टी संस्‍थापक मुलायम सिंह यादव के स्‍थान पर राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनाया गया था। इसके बाद साल 2017 के आगरा में हुए राष्‍ट्रीय अधिवेशन में उन्‍हें एक बार फिर सर्वसम्‍मति से पार्टी का अध्‍यक्ष चुना गया था। समाजवादी पार्टी का गठन अक्‍टूबर 1992 में हुआ था. तब से पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष पद पर अब तक यादव परिवार का ही कब्‍जा रहा है। अखिलेश यादव से पहले उनके पिता और पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह पार्टी की स्थापना के बाद से ही अध्यक्ष थे।


Updated : 29 Sep 2022 12:16 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top