Latest News
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > विधानसभा में भिड़े अखिलेश और केशव प्रसाद, दोनों में हुई तू-तू, मैं-मैं, मुख्यमंत्री के उठते ही...

विधानसभा में भिड़े अखिलेश और केशव प्रसाद, दोनों में हुई तू-तू, मैं-मैं, मुख्यमंत्री के उठते ही...

विधानसभा में भिड़े अखिलेश और केशव प्रसाद, दोनों में हुई तू-तू, मैं-मैं, मुख्यमंत्री के उठते ही...
X

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव के बीच जमकर भिड़ंत हो गई। बात इतनी बढ़ गई की दोनों नेता मर्यादा भूल गए और एक-दूसरे के लिए "तू और तुम" जैसे शब्दों का प्रयोग करने लगे। इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीच में ही उठकर अखिलेश यादव की क्लास लगा दी। उन्होंने अमर्यादित शब्द बोलने के लिए नेता प्रतिपक्ष को जमकर फटकारा।

दरअसल, राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने करीब एक घंटे तक प्रदेश की योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। इसके बाद उप मुख्यमंत्री मौर्य ने अपने संबोधन के दौरान सपा मुखिया पर पलटवार किया। केशव मौर्य जब बोल रहे थे, उस दौरान अखिलेश ने कई बार टोका-टोकी की तो उप मुख्यमंत्री ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष को सत्ता में न होने का दर्द सता रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि भविष्य में सपा को सत्ता में आने की संभावना भी नहीं है। वह जवाब दें ही रहे थे की अखिलेश दोबारा खड़े हो गए और कटाक्ष करते हुए पूछा कि आप लोक भवन में कब बैठ पाएंगे? जवाब में मौर्या ने कहा कि लोक भवन में बीजेपी का राज है।

दोनों और से चले व्यंग्य बाण -

इसी बीच अखिलेश ने केशव प्रसाद से अगला सवाल पूछ लिया की बताएं आपके मुख्‍यालय की सड़क किसने बनवाई?' अखिलेश ने खड़े होकर कहा कि 'ये PWD मंत्री रहे हैं, ये भूल गए। इनके जिले के मुख्‍यालय की सड़क किसने बनाई? बताइए... बताइए।' इसपर विधानसभा अध्‍यक्ष ने टोका कि आपस में बहस नहीं करें।

लोकभवन में भाजपा का राज -

इसके बाद केशव प्रसाद ने जवाब दिया और कहा की लोकभवन में भाजपा का राज है और रहेगा। 2027 में भी राज्य में भाजपा ही आएगी लेकिन आपका अब कोई भविष्य नहीं है। बात अगर करें की सड़क किसने बनाई है, मेट्रो किसने बनाया है, एक्‍सप्रेसवे किसने बनाया है, तो आप जैसे कह रहे है, ऐसा लगता है आपने सैफई की जमीन बेचकर यह सब बनवा दिया है।'

सैफई के जिक्र पर तमतमाए -

उपमुख्यमंत्री ने जैसे ही सैफई का जिक्र किया अखिलेश गुस्से से तमतमा गए और मर्यादा भूल गए। वह एकदम गुस्से में खड़े हो गए और डांटने के अंदाज में बोले कि क्या तुम अपने पिता जी की संपत्ति बेचकर सड़क बनवाते हो ?अखिलेश के ये शब्द बोलते ही सदन में जमकर हंगामा हो गया।

केशव मौर्य ने अखिलेश पर तंज किया कि नेता प्रतिपक्ष को न तो कोरोना का टीका पसंद है और न ही माथे का टीका। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में केंद्र की मोदी सरकार और उप्र प्रदेश की योगी सरकार ने जो अभूतपूर्व सेवा कार्य किया उसकी प्रशंसा पूरी दुनिया कर रही है, लेकिन नेता प्रतिपक्ष को ये अच्छे कार्य दिखते ही नहीं। उन्होंने अखिलेश को अपनी नजर ठीक कराने के लिए आंख के परीक्षण की सलाह भी दी।

योगी ने लगा दी क्लास -

इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बीच में ही उठ खड़े हो गए और अखिलेश यादव की क्लास लगा दी। मुख्यमंत्री ने कहा 'एक घंटे से अधिक हमने नेता प्रतिपक्ष को सुना। हमने उनकी बात सुनी। इस सदन में सरकार के उप मुख्‍यमंत्री अपनी बात रख रहे हैं। बीच में रनिंग कॉमेंट्री का मतलब क्‍या है? और दूसरा, एक सम्‍मानित नेता के खिलाफ असभ्‍य शब्‍दों का प्रयाग हो, यह ठीक नहीं है।'


Updated : 2022-05-25T18:36:29+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top