Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > एडवेंचर टूरिज्म का हब बनेगा उत्तर प्रदेश, हेलीपोर्ट, रोप-वे सेवा के साथ वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की भी मिली सौगात

एडवेंचर टूरिज्म का हब बनेगा उत्तर प्रदेश, हेलीपोर्ट, रोप-वे सेवा के साथ वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की भी मिली सौगात

रोमांचकारी पर्यटन की संभावनाओं को निरंतर विस्तार कर रही योगी सरकार

एडवेंचर टूरिज्म का हब बनेगा उत्तर प्रदेश, हेलीपोर्ट, रोप-वे सेवा के साथ वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की भी मिली सौगात
X

लखनऊ/वेब डेस्क। एडवेंचर कमोबेश हर व्यक्ति के स्वभाव में होता है। अधिकांश युवा तो एडवेंचर के प्रति क्रेजी होते हैं। ऐसे में अगर पर्यटन को एडवेंचर से जोड़ दें तो पर्यटन के लिहाज से असीम संभावनाओं वाले उत्तर प्रदेश की संभावनाओं में और विस्तार हो जाएगा। राज्य सरकार की मंशा भी यही है। देशी-विदेशी सैलानियों का सबसे पसंदीदा स्थल बनाने के क्रम में योगी सरकार-2.0 यूपी को एडवेंचर टूरिज्म का हब भी बनाएगी। इस बाबत प्रयास भी शुरू हो चुके हैं।

हेलीपोर्ट या रोपवे सेवा का विस्तार, गोरखपुर में सरकारी क्षेत्र का पहला वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, नौसेना पोत आईएनएस गोमती को लखनऊ लाने का निर्णय, ब्रज क्षेत्र में कार रैली का आयोजन एडवेंचर टूरिज्म को आगे बढ़ाने के प्रयास का हिस्सा है। पर्यटकों को सुविधाओं के साथ रोमांच का अहसास कराने के लिए योगी सरकार की योजना प्रदेश के प्रमुख शहरों (आगरा, मथुरा, लखनऊ और प्रयागराज) में हेलीपोर्ट एवं विंध्याचल, चित्रकूट के बाद बरसाना और प्रयागराज से भी रोपवे सेवा शुरू करने की है। मथुरा एवं आगरा में पीपीपी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप) मॉडल पर हेलीपोर्ट संचालन की प्रक्रिया शुरू भी हो चुकी है। बाकी शहरों में यह सेवा चरणबद्ध तरीके से शुरू की जाएगी। आसमान से चंद मिनट में अपने मनपसंद पर्यटन स्थल को देखना वाकई में अद्भुत और रोमांचकारी होता है। हेलीपोर्ट एवं रोपवे सेवा यकीनन एडवेंचर टूरिज़म को बढ़ावा देगी।


क्रूज सेवा से काशी में बढ़ा एडवेंचर टूरिज्म का क्रेज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कुछ साल पहले शुरू हुई देश की पहली जलपरिवहन परियोजना 'क्रूज सेवा' के लिये पूरे देश में अपनी पहचान बना चुकी है। काशी में देश-दुनिया के सैलानियों का आना लगा रहता है, यहां एडवेंचर टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए सरकार के प्रयास रंग ला रहे हैं। हाल के वर्षों में वाराणसी आने वाले पर्यटकों की संख्या में भारी वृद्धि में एडवेंचर टूरिज्म का खासा योगदान है।

गोरखपुर में वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, रामगढ़ ताल में कयाकिंग

पूर्वी उत्तर प्रदेश में एडवेंचरस वाटर स्पोर्ट्स की तमाम सम्भावनाएं थीं लेकिन पहली बार इन संभावनाओं को पर्यटन, विकास और रोजगार से जोड़ने का श्रेय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ही जाता है। दशकों त उपेक्षित रहे गोरखपुर के रामगढ़ ताल को पूर्वी उत्तर प्रदेश का सर्वाधिक खूबसूरत स्थान बनाने के साथ ही योगी सरकार ने ताल के किनारे विश्व स्तरीय वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स बनाया है। यहां एडवेंचरस वाटर स्पोर्ट्स का लुत्फ उठाने के साथ अंतरराष्ट्रीय जलक्रीड़ा प्रतियोगिताओं के लिए प्रशिक्षण भी प्राप्त किया जा सकेगा। इतना ही नहीं चंद रोज पूर्व इस ताल में कयाकिंग भी शुरू करा दी गई है। कयाकिंग की सुविधा अभी तक गोवा, मुंबई व केरल आदि जैसे समुद्र तटीय जगहों पर मिलती थी। गोरखपुर के रामगढ़ ताल में कयाकिंग का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

Updated : 16 July 2022 2:03 PM GMT
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top