Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > अलीगढ शराब कांड: जहरीली शराब से अब तक 66 लोगों की हो चुकी मौत, डीएम बोले-सिर्फ 25 ने गंवाई जान, सांसद बोले- डीएम जिम्मेदार

अलीगढ शराब कांड: जहरीली शराब से अब तक 66 लोगों की हो चुकी मौत, डीएम बोले-सिर्फ 25 ने गंवाई जान, सांसद बोले- डीएम जिम्मेदार

अब तक जिले में जहरीली शराब के सेवन से मरने का वालों का आंकड़ा 66 पर पहुंच चुका है। वहीं प्रशासन अब तक 25 मौतों की ही पुष्टि कर रहा है।

अलीगढ शराब कांड: जहरीली शराब से अब तक 66 लोगों की हो चुकी मौत, डीएम बोले-सिर्फ 25 ने गंवाई जान, सांसद बोले- डीएम जिम्मेदार
X

लखनऊ: अलीगढ़ में शराब का कहर रविवार को भी जारी रहा। पोस्टमार्टम हाउस पर शाम तक 16 शवों का पोस्टमार्टम किया गया। अब तक जिले में जहरीली शराब के सेवन से मरने का वालों का आंकड़ा 66 पर पहुंच चुका है। वहीं प्रशासन अब तक 25 मौतों की ही पुष्टि कर रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 26 शवों का बिसरा आगरा लैब में जांच को भेजा गया है। उधर, शराब कांड के एक मुख्य आरोपी को पुलिस ने तीन दिन की कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। 50-50 हजार के फरार ईनामी आरोपियों का अब तक कोई सुराग नहीं लग सका है।

शुक्रवार को जिले में जहरीली शराब के सेवन से हुआ मौतों का खतरनाक खेल रविवार को भी चलता रहा। हैरत की बात है जब जिले में शराब दुकानों को बंद करा दिया गया था, इसके बावजूद भी परचूनी की दुकानों पर शराब की अवैध बिक्री होती रही और ग्रामीणों ने खरीद कर पी। खैर, टप्पल, पिसावा में हुई मौतों के बाद इनके शव रविवार सुबह पोस्टमार्टम हाउस पर लाए गए। दिनभर जिलेभर के अलग-अलग गांवों में इस तरह से मौत होने का क्रम जारी रहा। सांसद सतीश गौतम ने जिला प्रशासन पर हमला बोलते हुए कहा कि जहरीली शराब के सेवन से हुई मौतों के लिए डीएम जिम्मेदार हैं। अगर किसी काम का श्रेय वह लेते हैं तो इस कांड की भी जिम्मेदारी उनकी बनती है। मामले में जल्द ही मुख्यमंत्री निर्णय लेंगे।

आबकारी विभाग इतने बड़े शराब कांड पर पर्दा डालने में जुटा हुआ है। हैरत की बात है कि दो दिन बीत जाने के बाद भी इस कांड में घिरे अनुज्ञापियों की दुकानों की सूची विभाग तैयार नहीं कर सका है। इसके अलावा विभाग के पास अब तक जिले की शराब दुकानों से लिए गए नमूनों का रिकार्ड और शराब माफियाओं की सूची तक उपलब्ध नहीं है।

जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने बताया, जनपद में अब तक जहरीली शराब के सेवन से 25 मौतें होने की पुष्टि हुई है। पोस्टमार्टम पर कई शव एक्सीडेंट व अन्य घटनाओं के भी पहुंचे हैं। कुछ शवों का बिसरा सुरक्षित रख नमूना आगरा लैब भिजवाया गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही पुष्टि हो सकेगी।

एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि शराब कांड के आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए गठित टीमें गैर जनपदों में भी दबिश दे रही हैं। एक आरोपी का तीन दिन की कस्टडी रिमांड मंजूर हो गई है। सभी आरोपियों पर एनएसए, गैंगेस्टर लगाने व सम्पत्ति जब्तीकरण की कार्यवाही भी शुरू कर दी गई है। सीएमओ डॉ. बीपी कल्याण ने बताया, 51 शवों का पोस्टमार्टम कराया जा चुका है। इसमें से 26 का बिसरा सुरक्षित रखते हुए नमूना आगरा जांच को भेजा गया है। प्राइमरी जांच में शराब में ही जहरीले पदार्थ मिलने के संकेत मिल रहे हैं। संभवत: इसी वजह से मौतें हुईं है।

Updated : 30 May 2021 4:48 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top