Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > उप्र में 20 लाख स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंट लाइन वर्कर को लगेगी बूस्टर डोज

उप्र में 20 लाख स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंट लाइन वर्कर को लगेगी बूस्टर डोज

युवाओं के टीकाकरण को लेकर तैयार की जा रही गाइडलाइन

उप्र में 20 लाख स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंट लाइन वर्कर को लगेगी बूस्टर डोज
X

लखनऊ। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर उत्तर प्रदेश में एक ओर सतर्कता बरती जा रही है तो वहीं प्रदेशवासियों को सुरक्षा का टीका कवच देने के लिए योगी सरकार प्रतिबद्ध है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की घोषणा के बाद प्रदेश में अगले माह से एक ओर 15 से 18 साल के किशोरों के लिए कोरोना रोधी टीकाकरण की शुरुआत की जाएगी। वहीं दो वैक्सीन के बाद अब एक नई कोरोना वैक्सीन जायडस कैडिला भी लोगों को निःशुल्क तौर पर लगाई जाएगी।

टीकाकरण एवं मातृ स्वास्थ्य के महाप्रबंधक डॉ. मनोज शुक्ला ने बताया कि केन्द्र सरकार की ओर से किशोरों के टीकाकरण को लेकर नई गाइडलाइन जारी होने के बाद विभाग की ओर से एक कार्ययोजना तैयार की जाएगी। इसके तहत जल्द से जल्द 15 से 18 साल के किशोरों का टीकाकरण किया जाएगा। डॉ. शुक्ला ने बताया कि प्रदेश में जनवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स और हेल्थ केयर वर्कर्स को प्रीकॉशन डोज दी जाएगी। प्रदेश में लगभग 10 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स और 10 लाख हेल्थ केयर वर्कर्स को ये डोज दी जाएगी। उन्होंने बताया कि चरणबद्ध तरीके से यह प्रीकॉशन डोज दी जानी है।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति के लिए टीकाकरण की पहली और दूसरी डोज लगवाने के लिए घर घर जाकर बुलावा पर्ची भेजी जा रही है। क्षेत्र में ही लोगों की सुविधानुसार टीकाकरण बूथ लगाए हैं जिनमें पहली और दूसरी डोज दी जा रही है।

पहले चरण में 14 जिलों में लगेगा जायडस कैडिला का टीका -

डॉ मनोज शुक्ला शुक्ल ने बताया कि प्रथम चरण में 14 जिलों में जायडस कैडिला कंपनी का टीका उपलब्ध होगा। इसमें लखनऊ, आगरा, अलीगढ़, अयोध्या, आजमगढ़, बरेली, गाजियाबाद, गोरखपुर, कानपुर नगर, मेरठ, मुरादाबाद, प्रयागराज, सहारनपुर और वाराणसी शामिल हैं। अभी तक प्रदेश में चार तरह की कोरोना वैक्सीन लोगों को लगाई जा रही है। इसमें कोवैक्सीन, कोविशील्ड और स्पूतनिक शामिल हैं। सरकारी अस्पतालों में कोवैक्सीन और कोविशील्ड की तरह ही अब जायडस वैक्सीन भी मुफ्त में लगाई जाएगी। जायडस तीन डोज वाली वैक्सीन है जिसे 28-28 दिन के अंतराल पर लगाया जाएगा। यह टीका 18 वर्ष से अधिक की उम्र वालों के लिए ही उपलब्ध होगा।

19 करोड़ से अधिक दी जा चुकी टीके की डोज -

प्रदेश में टीकाकरण को रफ्तार देने के लिए प्रदेश सरकार सभी जिलों में सधी नीति के तहत टीकाकरण अभियान को गति दे रही है। 15 से 18 साल के किशोरों के लिए कोरोना रोधी टीकाकरण की शुरुआत करने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से नई गाइडलाइन तैयार की जा रही है। इसके साथ ही कोरोना के मामलों में हुई बढ़ोतरी को देखते हुए केन्द्र सरकार की ओर से जारी नई गाइडलाइन के तहत सर्विलांस, टेस्ट, टीकाकरण, स्क्रीनिंग, कोविड नियमों का पालन, सैनिटाइजेशन को लेकर भी तेजी से कार्य करने के आदेश सीएम ने अधिकारियों को दिए हैं। प्रदेश में अब तक 19 करोड़ 51 लाख से अधिक टीके की डोज दी जा चुकी है जिसमें 12 करोड़ 56 लाख से अधिक पहली डोज और 06 करोड़ 95 लाख से अधिक दूसरी डोज दी जा चुकी है।

38 लोगों ने दी कोरोना को मात -

प्रदेश में अब तक 9 करोड़ 21 लाख से अधिक टेस्ट किए जा चुके हैं। बीते 24 घंटों में हुई 01 लाख 80 हजार से अधिक टेस्टिंग में महज 40 संक्रमण के मामलों की पुष्टि हुई। इस दौरान 38 लोगों ने संक्रमण को मात दी। प्रदेश में सक्रिय केसों की संख्या 324 है वहीं रिकवरी रेट 98.6 प्रतिशत है।

Updated : 27 Dec 2021 11:52 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top