Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > उत्तरप्रदेश में लोक निर्माण विभाग द्वारा 13189 किलोमीटर ग्रामीण मार्गों का किया गया निर्माण

उत्तरप्रदेश में लोक निर्माण विभाग द्वारा 13189 किलोमीटर ग्रामीण मार्गों का किया गया निर्माण

उत्तरप्रदेश में लोक निर्माण विभाग द्वारा 13189 किलोमीटर ग्रामीण मार्गों का किया गया निर्माण
X

लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के कुशल दिशा-निर्देशन में लोक निर्माण विभाग द्वारा वर्तमान सरकार के अब तक के कार्यकाल में लगभग 13189 किमी लम्बाई में ग्रामीण मार्गों का निर्माण किया जा चुका है।

लोक निर्माण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार विभाग द्वारा अनजुड़ी बसावटों, जिला योजना, राज्य सड़क निधि, नाबार्ड, एससीपी, पूर्वांचल विकास निधि, बुन्देलखण्ड विकास निधि आदि योजनाओं में ग्रामीण मार्गों का निर्माण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना के अन्तर्गत 156 मजरों हेतु 178 किमी लम्बाई में 102.48 करोड़ की लागत से मार्ग निर्माण के कार्य कराये जा रहे हैं, जिसमें अब तक लगभग 157.50 किमी लम्बाई में मार्ग निर्माण कराते हुये 146 कार्य पूर्ण किये जा चुके हैं। मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना के अन्तर्गत ही 33 राजस्व ग्रामों को 14.35 करोड़ की लागत से सम्पर्क मार्गों से जोड़ा गया है। 7 मीटर या उससे अधिक चौड़ी सड़कों के दोनों ओर 5 किमी की परिधि के अन्दर 250 से अधिक की आबादी की 2275 बसावटों को सम्पर्क मार्गों से जोड़े जाने हेतु 1407 करोड़ की स्वीकृतियां जारी की गयीं, जिसके सापेक्ष 1611 बसावटों को 2058.54 किमी लम्बाई में मार्ग निर्माण कर सम्पर्क मार्गों से जोड़ा जा चुका है।

2011 की जनगणना के आधार पर 250 से अधिक आबादी के अवशेष कुल 1891 राजस्व ग्रामों के सापेक्ष 297 ग्रामों हेतु 183.87 करोड़ की स्वीकृतियां निर्गत की गयीं, जिसके सापेक्ष 154 राजस्व ग्रामों को सम्पर्क मार्गों से जोड़ा जा चुका है तथा 2001 की जनगणना के आधार पर 250 से अधिक की आबादी के अनजुड़े 1557 राजस्व ग्रामों को सम्पर्क मार्गों से जोड़े जाने हेतु 1114 करोड़ की स्वीकृतियां जारी की गयीं और 1540 राजस्व ग्रामों को 1737.10 किमी लम्बाई में मार्ग निर्माण कर सम्पर्क मार्गों से जोड़ा जा चुका है।।

Updated : 18 March 2021 12:45 AM GMT
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top