Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > कोरोना की चेन तोड़ने के लिए 12,016 मोहल्ला निगरानी समितियां करेंगी प्रवासियों की निगरानी

कोरोना की चेन तोड़ने के लिए 12,016 मोहल्ला निगरानी समितियां करेंगी प्रवासियों की निगरानी

बैठक में जानकारी दी गई कि प्रदेश के समस्त स्थानीय निकायों (नगर निगमों, नगर पालिका परिषदों एवं नगर पंचायतों) में कुल 12016 निगरानी समितियां गठित की गई, जिनके द्वारा प्रवासियों की ट्रेसिंग, कोरोना संक्रमितों को सुविधा देने जैसे तमाम कार्य किये जा रहे हैं।

कोरोना की चेन तोड़ने के लिए 12,016 मोहल्ला निगरानी समितियां करेंगी प्रवासियों की निगरानी
X

लखनऊ: नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन कोविड-19 के परिप्रेक्ष्य में गुरुवार को तीसरी वर्चुअल बैठक नगर पालिकाओं के अध्यक्ष एवं आधिशासी अधिकारियों (ईओ) संग आयोजित की। बैठक में 7 मण्डल में जिसमें लखनऊ, मेरठ, मिर्जापुर, मुरादाबाद, प्रयागराज सहारनपुर, वाराणसी की 79 नगर पालिकाओं के अध्यक्ष एवं आधिशासी अधिकारियोंब(ईओ) जुड़े।

मंत्री द्वारा इससे पूर्व 124 नगर पालिकाओं के अध्यक्ष एवं आधिशासी अधिकारियों (ईओ) के साथ कोविड-19 के दृष्टिगत बैठक की जा चुकी है। उन्होंने निर्देशित किया कि प्रदेश भर में सक्रिय मोहल्ला निगरानी समितियां मोहल्ले में आने वाले प्रवासियों की ट्रेसिंग करेंगी। जिससे कोविड 19 के संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके। बैठक में जानकारी दी गई कि प्रदेश के समस्त स्थानीय निकायों (नगर निगमों, नगर पालिका परिषदों एवं नगर पंचायतों) में कुल 12016 निगरानी समितियां गठित की गई, जिनके द्वारा प्रवासियों की ट्रेसिंग, कोरोना संक्रमितों को सुविधा देने जैसे तमाम कार्य किये जा रहे हैं।

वार्ड में होने वाली मीटिंग में सम्मिलित हो निगरानी समिति :

नगर विकास मंत्री ने निर्देशित किया कि स्वच्छता कर्मी या फ्रंटलाइन वर्कर्स के कोरोना संक्रमित होने पर उसका व उसके परिवार विशेष तौर पर ध्यान देते हुए उसका उपचार करवाया जाये। साथ ही उन्हें सुरक्षा किट ग्लब्ज, पीपीई किट, सैनिटाइजर आदि दिया जाए। उनका वैक्सीनेशन किया जाए। इसके अलावा कोविड 19 के प्रति जागरुकता के लिए पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम का प्रयोग किया जाये। मंत्री जी ने निर्देशित किया कि मोहल्ला निगरानी समिति को कोविड 19 के प्रति जागरुकता के लिए सारी सामाग्री दी जाये। साथ ही निगरानी समितियों को वार्ड में होने वाली मीटिंग में जाने के निर्देश दिए गए।

वीकेंड कर्फ्यू में क्षेत्रों में व्यापक सैनिटाइजेशन हो :

आशुतोष टंडन ने कहा कि वार्डों में नगर पालिका परिषदों के द्वार जो सैनिटाइजेशन का कार्य हो रहा है। उसे एक अभियान के तौर पर किया जाये और प्रतिदिन दिन में तीन बार किया जाये। साथ ही सभी वार्डों का रोस्टर बनाकर सैनिटाइजेशन किया जाये। बड़े बजारों व प्रमुख स्थानों पर अभियान चलाकर सैनिटाइजेशन किया जाये। इसके अलावा वीकेंड कर्फ्यू में क्षेत्रों में व्यापक सैनिटाइजेशन व स्वच्छता अभियान चलाया जाये। वहीं कंटेनमेंट जोन से निकलने वाले वेस्ट का सही तरीके से निस्तारण किया जाये।

शुद्ध पेयजल की व्यवस्था दुरुस्त हो :

आशुतोष टंडन ने ग्रीष्म ऋतु से पहले शुद्ध पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाने के निर्देश दिए। ग्रीष्म ऋतु से पहले नालों की सिल्ट साफ की जाये। वार्डों में घर घर कूड़ा उठाने का अभियान चलाया जाए। इसके साथ साथ सैनिटाइजेशन किया जाए। सैनिटाइजेशन में सोडियम हाइपोक्लोराइड की मात्रा मानक के अनुरूप रखी जाये।

वार्डों को दो भागों में बांटकर हो सैनिटाइजेशन :

वर्चुअल मीटिंग में मंत्री ने चेयरमैन से वार्ता की जिसमें उन्हें बताया कि वार्डों में नाले की साफ सफाई हो रही है। सकरी गलियों में छोटी गाड़ियों से सैनिटाइजेशन किया जा रहा है। वार्डों को दो भागों में बांटकर सैनिटाइजेशन का कार्य हो रहा है। नलकूपों से शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। सफाई के दृष्टिगत मोबाइल टायलेट लगाया गया है। इसके अलावा वाटर एटीएम के माध्यम से राहगीरों को शुद्ध पेयजल भी उपलब्ध कराया जा रहा है। रेलवे स्टेशन व बस स्टेशनों पर भी निगरानी समिति लगाई जा रही जहां से प्रवासियों की ट्रेसिंग की जा रही है। सीमा विस्तार वाले क्षेत्रों में भी सैनिटाइजेशन किया जा रहा है।

वर्चुअल बैठक में सचिव नगर विकास विभाग अनिल कुमार, नगरीय निकाय निदेशालय की निदेशक शकुन्तला गौतम, विशेष सचिव नगर विकास विभाग इंद्रमणि त्रिपाठी समेत 7 मण्डल की 79 नगर पालिकाओं के अध्यक्ष एवं आधिशासी अधिकारियों (ईओ) जुड़े रहे।

Updated : 29 April 2021 5:07 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top