Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > आगरा > युवाओं को सफल नहीं, सार्थक होने की आवश्यकता : श्रीनिवास

युवाओं को सफल नहीं, सार्थक होने की आवश्यकता : श्रीनिवास

युवाओं को सफल नहीं, सार्थक होने की आवश्यकता : श्रीनिवास
X

एबीवीपी द्वारा 'उभरता भारत-नई आशाएं' विषय पर आयोजित संगोष्ठी

आगरा। युवाओं को सफल नहीं, सार्थक होने की आवश्यकता है। यह कहना है अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय सह संगठनमंत्री श्रीनिवास का। मंगलवार को वह एबीवीपी द्वारा 'उभरता भारत-नई आशाएं' विषय पर विवि में आयोजित संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि युवाओं को सूर्य जैसे चमकना है, तो उन्हें जलना पड़ेगा। उन्होंने महिलाओं की समाज में सक्रियता पर जोर देते हुए कहा कि नारी नारायण का स्वरूप है और नारायण को जन्म देने वाली भी नारी है। श्रीनिवास ने कहा कि लॉर्ड मैकाले की शिक्षा पद्धति ने भारतीय संस्कृति को अत्यधिक चोट पहुॅचाई है, मैकाले की शिक्षा पद्धिति के चलते युवा मानसिक रूप से पश्चिमी सभ्यता का गुलाम हो गया है। संगोष्ठी में मुख्य अतिथि डॉ. दिनेश राठौर ने भी अपना संबोधन दिया।

अध्यक्षता प्रो. भारती सिंह व आभार चन्द्र्रजीत यादव ने दिया। कार्यक्रम का संचालन प्रियंका तिवारी व प्रियंका चौधरी ने किया। संगोष्ठी में प्रान्त संगठन मंत्री जयकरन, प्रान्त मंत्री आशुतोष मिश्रा, संघ के आगरा विभाग प्रचारक धर्मेंद्र, सह विभाग प्रचार गोविंद, प्रो. ब्रजेश रावत, लवकुश मिश्रा, डॉ. बीडी शुक्ल, राहुल सारस्वत, गुंजन पंडिता, ललित शर्मा, कुनाल, सपना भदौरिया, कृतिका सोलंकी, दीपक भारद्वाज आदि उपस्थित रहे।


Updated : 2019-03-13T21:50:39+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top