Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > आगरा > जीवन का वास्तविक धन शिक्षा ही है-धर्मेंद्र जी

जीवन का वास्तविक धन शिक्षा ही है-धर्मेंद्र जी

-नगला पदी क्षेत्र में बाल संस्कार केंद्र का शुभारंभ

जीवन का वास्तविक धन शिक्षा ही है-धर्मेंद्र जी
X

आगरा। अपने जीवन में कभी भी पढ़ाई के महत्व को नहीं भूलना चाहिए। क्योंकि शिक्षा अगर आपके जीवन में है तो धन की कमी आपको कभी नहीं होगी, किंतु अगर आप उनके पीछे भागेंगे तो निश्चित रुप से आपको जीवन में धन और शिक्षा दोनों का अभाव झेलना पड़ेगा। यह कहना था राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के आगरा विभाग प्रचारक धर्मेंद्र जी का।

शनिवार को वह नगला पदी क्षेत्र में मातृमंडल सेवा भारती द्वारा रानी लक्ष्मीबाई किशोर विकास केंद्र के अंतर्गत बाल संस्कार केंद्र के शुभारंभ अवसर पर उपस्थित नन्हें छात्रों को संबोधित कर रहे थे। डाकू सुलताना का प्रसंग सुनाते हुए धर्मेद्र जी ने बच्चों से कहा कि शिक्षा की जीवन का सर्वोत्तम धन है। अच्छी शिक्षा प्राप्त करने के बाद अच्छे चरित्रों को आत्मसात कर अच्छा नागरिक बनना है।

इससे पूर्व मातृमंडल सेवा भारती की संरक्षक जानी-मानी आहार विशेषज्ञ डाॅ. रेनुका डंग, सेवा भारती के विभाग अध्यक्ष वीरेंद्र वाष्र्णेय, मातृमंडल की प्रांत अध्यक्ष निर्मला सिंह ने संस्कार केंद्र का शुभारंभ किया और बच्चों को शिक्षण सामग्री का वितरण किया। कार्यक्रम की प्रस्तावना व संयोजन मातृमंडल सेवा भारती की क्षेत्रीय बौद्धिक प्रमुख रीना सिंह व संचालन पविता सिंह ने किया। एकल गीत वंदना व प्रियांशी ने प्रस्तुत किया।

कार्यक्रम में सेवा भारती के प्रांत महामंत्री सूर्य नारायण मिश्र, विभाग प्रचार प्रमुख मनमोहन निरंकारी, पूर्वी महानगर अध्यक्ष अरूण गर्ग, संरक्षक अंतुल सिंह, जितेंद्र रावत, ममता सिंह, अमित राठौर, अनिता दुबे, रूबि शाक्य, सुप्रिया, करन बत्रा आदि उपस्थित रहे।

Updated : 5 Sep 2020 3:45 PM GMT

स्वदेश आगरा

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top