Home > टेक अपडेट > वोडाफोन आइडिया ने दूरसंचार विभाग को 1000 करोड़ रुपये का किया भुगतान

वोडाफोन आइडिया ने दूरसंचार विभाग को 1000 करोड़ रुपये का किया भुगतान

वोडाफोन आइडिया ने दूरसंचार विभाग को 1000 करोड़ रुपये का किया भुगतान
X

नई दिल्ली। दूरसंचार विभाग टेलीकॉम कंपनियों के फरवरी अंत तक बाकी का भुगतान करने के समय सीमा देने की खबरों के बीच वोडाफोन आइडिया ने एक हजार करोड़ रुपये का भुगतान किया है। पीटीआई ने एक सूत्र के हवाले से यह जानकारी दी है। DoT सूत्र ने कहा कि एक या दो दिन में पूर्ण बकाया की वसूली के लिए टाटा टेलीसर्विसेज को नोटिस भी भेजे जाएंगे। कंपनी ने सोमवार को सरकार को 2,197 करोड़ रुपये का भुगतान किया था, जबकि DoT की गणना 14 करोड़ रुपये से अधिक की बकाया राशि थी।

बता दें इससे पहले वोडाफोन आइडिया और टाटा समूह ने सोमवार को सरकार को बकायों में से कुछ पैसे का भुगतान किया। वोडाफोन आइडिया ने 2,500 करोड़ रुपये और टाटा समूह ने 2,190 करोड़ रुपये जमा कराए थे। बता दें सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद सरकार ने दूरसंचार कंपनियों पर सकल समायोजित आय (एजीआर) के बकाए की वसूली को लेकर के खिलाफ कड़ा रुख अपनाया है। इस सख्ती के बीच भारती एयरटेल ने सोमवार को सांविधिक बकाया मदद में दूरसंचार विभाग को 10,000 करोड़ रुपये का भुगतान किया।

बता दें कंपनियों के आकलन का दूरसंचार विभाग की मांग से मिलान नहीं हुआ है। टाटा टेली ने अभी 2,197 करोड़ रुपये का भुगतान किया है और कंपनी का कहना है कि अब उसकी कोई देनदारी नहीं बनती है। वहीं दूरसंचार विभाग के मुताबिक टाटा टेली की 14,382 करोड़ रुपये की देनदारी बनती है। सरकार टाटा टेली के दावे की जांच कर रही है। बाकी कंपनियों के सेल्फ एससेमेंट के मिलान में वक्त लगेगा। वहीं वोडाफोन का दावा उसकी देनदारी मात्र 7,000 करोड़ रुपये बनती है। ऐसे में कंपनियों के साथ कार्रवाई करने के लिए वक्त चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने 17 मार्च तक आदेश का अनुपालन मांगा है।

Updated : 20 Feb 2020 10:13 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top