Home > टेक अपडेट > यूजर्स को व्हाटसएप्प पर यह काम करना पड़ सकता है मँहगा

यूजर्स को व्हाटसएप्प पर यह काम करना पड़ सकता है मँहगा

यूजर्स को व्हाटसएप्प पर यह काम करना पड़ सकता है मँहगा
X

नई दिल्ली। अब कानूनी कारवाई इंस्टेंट मैसेजिंग सर्विस व्हाटसएप्प का गलत इस्तेमाल करने वाले यूजर्स पर की जा सकती है। इस बात की जानकारी व्हाटसएप्प ने अपने फेक पोस्ट के जरिए दी है। व्हाटसएप्प का कहना है कि एक साथ कई लोगों को मैसेज भेजने या फॉरवर्ड करने, ऑटोमैटेड मैसेज भेजने वाले यूजर्स अगर किसी भी तरह के नियम और शर्तों का उल्लंघन करेगा तो उस पर कानूनी कारवाई की जा सकती है।

अपने फेक पेज के 'अनऑथराइज्ड यूसेज ऑफ वॉट्सऐप पॉलिसी' सेक्शन में व्हाटसएप्प कहा है कि कोई भी यूजर या संस्थान जो एक साथ ढ़ेर सारे यानी बल्क मैसेज भेजेगी या ऑटोमेटेड मैसेज भेजेगी, उसे 7 दिसंबर के बाद से कानूनी कार्यवाही का सामना करना पड़ेगा। हालांकि, व्हाटसएप्प ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि वह यूजर पर किस तरह की कानूनी कारवाई करेगा। हाल ही में समाप्त हुए लोकसभा चुनाव के दौरान व्हाटसएप्प के मिसयूज की घटना सामने आई थी। इसमें यूजर्स फ्री क्लोन ऐप और सॉफ्टवेयर टूल के माध्यम से व्हाटसएप्प पर बल्क मैसेज करते पाए गए। व्हाटसएप्प पिछले साल से ही फेक न्यूज और अफवाह फैलने की वजह से केन्द्र सरकार के निशाने पर है। पिछले साल महाराष्ट्र की घटना के बाद से व्हाटसएप्प ने विज्ञापन के जरिए फेक न्यूज और अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए यूजर्स को अपील की थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार व्हाटसएप्प ने फेक न्यूज और अफवाहों को तेजी से वायरल होने से रोकने के लिए अपने ऐप में कई बदलाव किए हैं। ऐप के फॉरवर्डिंग फीचर में हुए बदलाव की वजह से यूजर्स अब एक बार में अधिकतम 5 लोगों को ही कोई मैसेज एक बार में भेज सकते हैं। इस फीचर के जुड़ने के बाद भी कुछ यूजर्स ऐप क्लोनिंग करके और सॉफ्टवेयर टूल के माध्यम से बल्क मैसेज भेज रहे हैं। कानूनी कारवाई करने का फैसला जिसके बाद व्हाटसएप्प ने लिया है।

Updated : 16 Jun 2019 12:51 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top