Home > स्वदेश विशेष > सांसद शेजवलकर का बढ़ता प्रभाव, दो साल में पांच सौ करोड़ की सौगातें

सांसद शेजवलकर का बढ़ता प्रभाव, दो साल में पांच सौ करोड़ की सौगातें

-आज सादगी से मनेगा 73वां जन्मदिन, बधाइयों का तांता

सांसद शेजवलकर का बढ़ता प्रभाव, दो साल में पांच सौ करोड़ की सौगातें
X

ग्वालियर/वेब डेस्क। सहज, सरल एवं सबके लिए हमेशा उपलब्ध रहने वाले ग्वालियर लोकसभा क्षेत्र के लोकप्रिय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर का 13 जून, रविवार को 73वां जन्मदिन है। जन्मदिन की पूर्व संध्या पर राजनेताओं, शुभचिंतकों आदि ने उन्हें बधाइयां देना शुरू कर दी हैं। यद्यपि कोरोना काल को देखते हुए उनका जन्मदिन बेहद सादगी के साथ मनाया जाएगा। फिर भी उनके समर्थक मंदिरों में पूजा-अर्चना के साथ आश्रमों एवं गरीब बस्तियों में जरूरतमंदों को मिष्ठान एवं फल वितरण करेंगे। संयोग से जहां श्री शेजवलकर का जन्मदिन है वहीं पिछले दिनों ही उन्होंने लोकसभा सदस्य बने दो वर्ष पूर्ण किए हैं। इस अवसर पर स्वदेश ने उनसे ग्वालियर को दी गई सौगातों को लेकर चर्चा की है।

श्री शेजवलकर ने कहा कि वैसे तो पिछले सवा डेढ़ साल से विकास योजनाएं कोरोना की वजह से धीमी गति से चल रही हैं। फिर भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा गरीब एवं जरूरतमंदों के लिए विकास योजनाओं को अमलीजामा पहनाया जा रहा है। हाल ही में कोरोना की दूसरी लहर में जिस त्रासदी से सभी विचलित थे, उसे धीरे-धीरे कम करते हुए अब विकास कार्य की गति को आगे बढ़ाया जाएगा। उन्होंने बताया कि लोकसभा में उनके द्वारा समय-समय पर क्षेत्र से जुड़े अहम मुद्दों को उठाया जाता रहा है। जिसका लाभ भी क्षेत्रीय जनता को प्राप्त हुआ है। फिर चाहे वह स्वास्थ्य सेवाओं की बात हो या फिर परिवहन की। शिक्षा और पर्यटन एवं तकनीकी शिक्षा से जुड़े मुद्दों को भी संसद के पटल उठाया गया।

टीकाकरण पर जोर

श्री शेजवलकर द्वारा सर्वप्रथम न सिर्फ स्वयं सपरिवार कोरोना का टीका लगवाया गया बल्कि आमजन को भी इसके लिए प्रोत्साहित किया गया। उनका कहना है कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण बेहद जरूरी है। मेरा क्षेत्र की जनता से अपील है कि वे ज्यादा से ज्यादा टीका लगवाएं।

ट्रेनों व विमानों की सौगात

सांसद श्री शेजवलकर के प्रयासों से कई ट्रेनों का स्टॉपेज ग्वालियर में हुआ। जबकि कई विमान सेवाएं भी शुरू करवाने में उनकी महती भूमिका रहा। जिसमें से ग्वालियर-पुणे, ग्वालियर-मुंबई प्रमुख हैं।

कोरोना काल में

सांसद निधि से 1.40 करोड़ रुपए चिकित्सा उपकरण आदि के लिए दिए। समय-समय पर पीडि़त मरीजों एवं उनके परिजनों को पलंग, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर एवं कोविड सेंटर के माध्यम से यथासंभव मदद की।

124 किमी पदयात्रा

संकल्य यात्रा 2019 के दौरान शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र डबरा, भितरवार, करैरा, पोहरी के 71 गांवों एवं 81 वार्डों में करीब 124 किमी पदयात्रा 17 दिन में की।

हाइवे की सौगात

मोहना में 18 करोड़ की लागत से चार किमी सड़क निर्माण पूर्ण, डबरा में 50 करोड़ की लागत से नौ किमी एवं जौरासी में एक किमी सड़क का निर्माण करवाया। साथ ही ग्वालियर-झांसी हाइवे एवं शिवपुरी वायपास का कार्य पूर्ण। वेस्टर्न वायपास के लिए संसद में रायरू से साडा होते हुए गिरवाई पर निकलने वाले मार्ग की मांग की, जिससे मार्ग की 25 किमी कम हो जाएगी। वहीं लक्ष्मणपुरा, पड़ाव, गांधीनगर, फूलबाग मरी माता, लक्ष्मण तलैया, घोसीपुरा कटीघाटी के फाटकों का चौड़ीकरण कराया।

प्रमुख योजनाएं

-ग्वालियर रेलवे स्टेशन को अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्टेशन बनाने के लिए 243 करोड़ की बजट स्वीकृत कराया।

-25 सड़कों के निर्माण के लिए 147 करोड़ स्वीकृत

-विमानतल के नए टर्मिनल भवन के लिए प्रयासरत

-118 गांवों में नलजल योजनाओं के लिए 104 करोड़ की स्वीकृति

-प्रधानमंत्री राष्ट्रीय सहायता कोष से 1.23 करोड़।

-सांसद निधि से तिलघना ग्राम के दोहटा घाट सांक नदी पर चेक डैम का निर्माण।

-इसके अलावा संसद में दर्जनों मुद्दे उठाए।

Updated : 2021-06-13T05:45:44+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top