Top
Home > स्वदेश विशेष > विनेश फोगाट ने दर्द सहकर भी भारत को दिलाया गोल्ड

विनेश फोगाट ने दर्द सहकर भी भारत को दिलाया गोल्ड

विनेश फोगाट ने दर्द सहकर भी भारत को दिलाया गोल्ड
X

बेंगलुरु| देश की ख्याति प्राप्त महिला पहलवान विनेश फोगाट ने 2014 के एशियाई खेलों में गोल्ड मैडल जीता था और 2016 के ओलंपिक में भी मैडल मिलना था, लेकिन उसी समय उनके घुटनॊं में दर्द हुआ और उनका आत्मविश्वास कम हो गया। घुटनॊं के दर्द के कारण विनेश फॊगाट का मुम्बई के धीरुभाई अंबानी अस्पताल में इलाज कराया गया । उस समय विनेश फोगाट उको लगा था कि अब वह खेल नहीं सेंगी, लेकिन अतिशीघ्रता से तंदुरुस्त होकर फिर से खेल की दुनिया में लौट गयी । उसी साल सरकार ने जब उन्हें अर्जुन पुरस्कार के लिए चुना तब उन्हॊंने व्हील चेयर में जाकर अर्जुन अवार्ड लिया था। तब उनके मन में एक ही बात थी कि सिर्फ दो ही मैडल पर रुकना नहीं चाहिए | फिर लौटकर आऊंगी ऐसा उन्हॊंने सॊचा था। अब उनकी सोच व सपना सच साबित हो गया जब एशियाई खेल में सोना जीतकर आयी है।

अस्पताल से लौटने के बाद विनेश ने मेडल पाने के लिए एक बार फिर अभ्यास शुरू किया जो रंग लाया। बेंगलुरु के स्पोर्ट्स एक्सलेन्सी केंद्र में उन्होंने उत्तम प्रशिक्षण पाया था। विनेश कहती हैं कि साथी सोमवीर की सहायता से उन्हें उत्तम प्रशिक्षण मिला है | साथ ही परिवार वालॊं की सहायता भी उन्हें बहुत मिली है। अस्पताल में पडे रहने के वक्त परिवार के लॊगॊं ने संपूर्ण साथ दिया और उन्हें स्वस्थ हॊकर खेलने के लिए प्रॊत्साहित किया। इसलिए बहुत जल्द ही घावॊं से उबर कर अभ्यास करने लगी। ताऊ महवीर फॊगाट और भाभी, बेंगलुरु में साथ रहकर अभ्यास कराया। दर्द में भी खेलकर उपलब्धि पाई है।

Updated : 2018-08-22T22:16:30+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top