Top
Home > स्वदेश विशेष > नन्हें हाथों का ये सिर्फ सेल्यूट नहीं है, तमाचा है नक्सलियों के गाल पर

नन्हें हाथों का ये सिर्फ सेल्यूट नहीं है, तमाचा है नक्सलियों के गाल पर

नक्सली क्षेत्र सुकमा में सैनिक को देखकर दो मासूमों ने जब सेल्यूट किया तो सैनिक ने भी सेल्यूट से ही जवाब दिया

नन्हें हाथों का ये सिर्फ सेल्यूट नहीं है, तमाचा है नक्सलियों के गाल पर
X

स्वदेश वेब डेस्क। देशप्रेम या देशभक्ति की बात जब भी आती है तो निसंदेह उसके लिए सैनिक का चेहरा सामने आता है। क्योंकि उससे बड़ा देशप्रेमी और देशभक्त कोई नहीं हो सकता । देश की सीमा हो या देश के अन्दर छिपे दुश्मन, उनसे हमें बचाने के लिए यही अपनी जान की बाजी लगाते हैं । छत्तीसगढ़ में नक्सली हो या कश्मीर में आतंकवादी आज इनकी गोलियों का निशाना सैनिक ही बन रहा है। इसलिए आज हमें सैनिकों का अपने फौजी भाइयों का हौसला बनना है। ये तस्वीर भी कुछ यही कह रही है। नक्सली क्षेत्र सुकमा ने जब एक वीर सैनिक जा रहा था तो अनायास दो बच्चों ने उनको सम्मान से सेल्यूट कर दिया जिसे देखकर फौजी से भी नहीं रुका गया और सेल्यूट का जवाब सेल्यूट से ही दिया।

किसी शायर ने सही कहा है

ताकत वतन की हमसे है,

हिम्मत वतन की हमसे है,

इज्जत वतन की हमसे है,

इन्सान के हम रखवाले...

पहरेदार हिमालय के हम झोंके हैं तूफ़ान के सुनकर गरज हमारी सीने फट जाते चट्टान के...

Updated : 2018-11-05T00:39:27+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top