Top
Home > स्वदेश विशेष > साक्षात्कार : भाजपा में व्यक्ति की प्रासंगिकता, लेकिन अपरिहार्य नहीं - वीडी शर्मा

साक्षात्कार : भाजपा में व्यक्ति की प्रासंगिकता, लेकिन अपरिहार्य नहीं - वीडी शर्मा

  • भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा से 'स्वदेश' की विशेष चर्चा

साक्षात्कार : भाजपा में व्यक्ति की प्रासंगिकता, लेकिन अपरिहार्य नहीं - वीडी शर्मा
X

जल्द होगी नियुक्तियां, प्रदेश कार्यकारिणी का गठन भी शीघ्र

भोपाल/वेब डेस्क। श्री विष्णु दत्त शर्मा भाजपा के आज प्रदेश अध्यक्ष हैं। श्री शर्मा खजुराहो लोकसभा से पार्टी के सांसद भी हैं। श्री शर्मा पार्टी के विविध दायित्वों का सफलतापूर्वक निर्वहन कर चुके हैं। पर श्री शर्मा का एक परिचय और है जो उन्हें एक वैशिष्ट्य प्रदान करता है वह है कि वह भाजपा के एक उत्कृष्ट कार्यकर्ता हैं। बेहद सहज, सरल, विनम्र एवं जुझारू श्री शर्मा की अब तक कि राजनीतिक यात्रा नए कार्यकर्ताओं के लिए एक पाठशाला भी है। 'स्वदेश' से एक लंबी एवं बेहद आत्मीय बातचीत के दौरान आपने हर एक प्रश्न का उत्तर देते हुए जोर देकर कहा कि हम सब कार्यकर्ता हैं, यहाँ कोई भी कितना ही बड़ा क्यों न हो पहले कार्यकर्ता है फिर कुछ और। व्यक्ति प्रासंगिक है पर अपरिहार्य नहीं। आपने कहा कि प्रदेश कार्यकारिणी शीघ्र ही घोषित होगी और सरकारी स्तर पर शेष नियुक्ति भी जल्दी ही होंगी। 'स्वदेश' के समूह संपादक अतुल तारे एवं 'मध्य स्वदेश' भोपाल के प्रभारी सौमित्र जोशी के साथ हुई इस बातचीत के दौरान भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर भी उपस्थित थे।


गरीब कल्याण का माध्यम बन रही हमारी सरकारें :

श्री शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री से लेकर सरपंच तक देशभर में भाजपा के कार्यकर्ता जनप्रतिनिधि के रूप में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। संघ से प्रेरित अपने राष्ट्रवादी विचारों के साथ यह कार्यकर्ता समाज में अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं। हम केवल राजनीति करने के लिए नहीं, बल्कि समाज में भूमिका निर्वहन के लिए सत्ता में आए हैं। यही कारण है कि देश और प्रदेशों में हमारी सरकारें गरीबों के कल्याण का माध्यम बन रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के रूप में सत्ता और संगठन के बीच समन्वय को लेकर श्री शर्मा ने कहा कि सत्ता और संगठन का समन्वय ठीक तरीके से बना रहे, इसके लिए जो सत्ता और संगठन के कार्यकर्ताओं से समय-समय पर संवाद जारी रहता है। हम सामूहिक नेतृत्व के आधार पर आगे बढ़ते हैं। सत्ता और संगठन स्तर पर मिलजुलकर एक बेहतर समन्वय बनाने का प्रयास हम सभी का है।

हर सफलता का श्रेय पार्टी कार्यकर्ता को :-

प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी को लगातार मिली सफलताओं के प्रश्न पर श्री शर्मा ने कहा कि इन सफलताओं का श्रेय किसी को जाता है तो भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता को जाता है। क्योंकि मप्र में भाजपा का जो संगठन है, उसे श्रद्धेय कुशाभाऊ ठाकरे, राजमाता सिंधिया, प्यारेलाल खण्डेलवाल जैसे लोगों ने खड़ा किया है। संगठन को एक पद्याति के आधार पर एक स्वरूप देने का काम पूरे भारत में मप्र से हुआ। आज एक आदर्श संगठन मप्र भारतीय जनता पार्टी है, तो उसका कारण है कि पार्टी का प्रत्येक कार्यकर्ता अपनी भूमिका को जनता है। तकनीकी का उपयोग करते हुए बूथ को सशक्त बनाना हमारी पहली प्राथमिकता है।

असहज नहीं, भाजपा का मूल कार्यकर्ता

एक प्रश्न के उत्तर में श्री शर्मा ने कहा कि भाजपा में जो भी नए साथी आए हैं, वे अब पार्टी के कार्यकर्ता हैं। भाजपा में सभी को कार्यकर्ता बनकर ही काम करना है। कार्यकर्ता के नाते से कोई कहीं भी हो सकता है। कोई किसी भी जिम्मेदारी में आ सकता है। प्रत्येक कार्यकर्ता को काम देने का प्रयास हमारा प्रयास है। इस कारण भाजपा के पुराने कार्यकर्ता में असहजता है, मुझे ऐसा नहीं लगता।

जल्द ही आएगी प्रदेश कार्यकारिणी:

श्री शर्मा ने कहा कि कोविड-19 के चलते प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा में थोड़ा विलंब हुआ है। प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद प्रदेश में पार्टी की सरकार बनी तो कोविड का संकट आ गया। कोविड के संकट से निपटना हमारी प्राथमिकता थी राष्ट्रीय अध्यक्ष ने देशभर के कार्यकर्ताओं से राजनीति के साथ सामाजिक भूमिका निभाने का आह्वान किया था। मप्र के भाजपा कार्यकर्ताओ ने अहम सामाजिक भूमिका निभाई। कार्यकारिणी में अभी पांचों महामंत्री बने हैं। सामूहिक निर्णय के बाद जल्द ही कार्यकारिणी को अंतिम स्वरूप दिया जाएगा। श्री शर्मा ने कहा कि संगठन में नियुक्तियों के साथ जल्द ही सरकार में भी नियुक्तियां की जाएंगी। श्री शर्मा ने कहा कि कार्यकर्ता नगरीय निकाय चुनाव की तैयारी में लग चुके हैं। मुझे विश्वास है कि नगरीय निकाय चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी प्रचंड बहुमत के साथ जीतेगी।

प्रधानमंत्री का हर निर्णय देश हित में

एक प्रश्न के उत्तर में श्री शर्मा ने कहा कि हमारे इरादे हमेशा नेक होते हैं। देश के अंदर नरेन्द्र मोदी जैसा नेतृत्व है। वो हमेशा, 24 घंटे देश के लिए ही काम करने की भूमिका में रहते हैं। प्रधानमंत्री और भाजपा की सरकार उनके नेतृत्व में जो भी निर्णय करती है। मैं विश्वास के साथ कहता हँू कि गंभीरता के साथ कहता हँू कि वो निर्णय देश के हित में ही होंगे। धारा 370 को हटाना देश की सुरक्षा के लिए आवश्यक था। राम मंदिर का मुद्दा का भी कांग्रेस ने विरोध किया। जीएसटी, नोटबंदी, सीएए जैसे सभी निर्णय देश हित में थे, लेकिन कांग्रेस ने विरोध किया। उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों को लेकर किसान आंदोलन नहीं बल्कि कांग्रेस द्वारा प्रेरित बामपंथियों द्वारा रचा गया षड्यंत्र है। किसानों को तो गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। इसलिए जन जागरण का अभियान भारतीय जनता पार्टी ने शुरू किया है।

प्रयास है, आत्मनिर्भर और समृद्ध बने खजुराहो

श्री शर्मा ने कहा कि खजुराहो के सांसद के रूप में मुझे उस क्षेत्र के लिए कुछ करने का सौभाग्य मिला है। वहां संसाधन बहुत हैं, लेकिन रोजगार, शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। प्रयास है कि इस क्षेत्र में पर्यटन समृद्ध हो। स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से लघु उद्योग विकसित हों तथा शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में मजबूत अधोसंरचना तैयार हो सकें। जलाभाव वाले बुंदेलखंड में पानी की पर्याप्त उपलब्धता के लिए भी प्रयासरत हँू। इस तरह खजुराहो लोकसभा को आत्मनिर्भर और समृद्ध बनाने के लिए प्रयासरत हँू।

हर दायित्व में बेहतर प्रदर्शन का प्रयास

श्री शर्मा ने कहा कि हम खुद को संगठन के काम में सहज पाते हैं। संगठन जो मेरे लिए जो निर्णय कर देता है उस काम को बेहतर करने का प्रयास करता हँॅू। जब नेहरू युवा केन्द्र, चुनाव या सांसद के रूप में जो भी दायित्व मुझे दिया, मैंने प्रयास किया कि इस भूमिका का सर्वश्रेष्ठ निर्वहन करूं। प्रदेश अध्यक्ष के रूप में भी अच्छा अध्यक्ष बनने के लिए प्रयासरत हँू।

गुट नहीं विचार आधारित दल है भाजपा : श्री शर्मा ने कहा कि भाजपा में कोई भी नेता, कहीं से भी आते हैं, भाजपा में आने के बाद वे भाजपा के कार्यकर्ता हैं, व्यक्ति विशेष नहीं हैं। भाजपा में व्यक्तियों की प्रासंगिकता तो है, लेकिन अपरिहार्य नहीं है। इसलिए सिंधिया जी के साथ जो लोग भाजपा में आए हैं, मैं मानता हँू, वह सब अब भाजपा के कार्यकर्ता हैं। प्रशिक्षण शिविरों में सामान्य कार्यकर्ता के रूप में मैं स्वयं भी प्रशिक्षण ले रहा हँू, मुख्यमंत्री भी ले रहे हैं और सिंधिया जी भी ले रहे हैं। हम भाजपा के विचार, पद्धति पर काम करने वाले कार्यकर्ता हैं। समूह और गुट भाजपा में काम नहीं करते। जो नए साथी कार्यकर्ता आए हैं, उनके मन में भी इच्छा है कि भाजपा के अच्छे कार्यकर्ता बनें। अच्छे कार्यकर्ता बनने के लिए प्रयास सब मिलकर कर रहे हैं। भाजपा अपने विचार और पद्यति पर काम करती है, गुट या समूह के रूप में नहीं।

Updated : 2020-12-17T14:54:11+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top