Top
Home > स्वदेश विशेष > जन्मदिन पर दिया देश को रिटर्न गिफ्ट, पढ़े पूरी खबर

जन्मदिन पर दिया देश को रिटर्न गिफ्ट, पढ़े पूरी खबर

आज का दिन कोई खास नहीं पर रोज की तरह ही है लेकिन वर्षभर किसी न किसी दिन सब के लिए खास होता है हम भी यानी आज (24 अप्रैल) की बात कर रहे है क्योंकि आज के दिन बहुत महान हस्तियों ने जन्म लिया जिनमें से एक है क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर, लेकिन हम ऐसे शख्स की बात कर रहे है जिनको हर एक व्यक्ति भगवान कहता है वो है डॉक्टर, जी हाँ हम आपको बता दें कि प्रमोद सावंत एक भारतीय राजनीतिज्ञ एवं वर्तमान मे गोवा के मुख्यमंत्री हैं। सावंत गोवा के सैंकलिम विधान सभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। वे भारतीय जनता पार्टी के सदस्य और पेशे से वे मूलतः आयुर्वेदिक चिकित्सक हैं।

हम आपको बता दें कि सावंत ने शुक्रवार को अपना जन्मदिन एक खास तरीके से मनाया, जिसकी तारीफ की जाये वह कम है। वैसे हर व्यक्ति अपना जन्मदिन कुछ अलग अंदाज में मनाना चाहता है। और उसको अपने तरीके से एन्जॉय करना चाहता है। लेकिन गोवा के मुख्यमंत्री ने अपना जन्मदिन बड़ा यादगार मनाया है। यही नहीं देश को एक रिटर्न गिफ्ट दिया है। क्योंकि यह समय बड़ा कीमती था जो उन्होंने निकालकर लोगों को दिया।

सावंत ने कहा, ''आज मेरा जन्मदिन है, लेकिन मैंने फैसला किया कि इसका जश्न नहीं मनाऊंगा। मैं मुख्यमंत्री हूं, लेकिन पेशे से मैं एक आयुर्वेदिक डॉक्टर हूं। स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वॉरियर्स के साथ एकजुटता दिखाने के लिए मैंने आधा दिन असिलो अस्पताल में बिताने का फैसला किया। मैं आयुर्वेदिक ओपीडी में बैठा और डॉक्टर समीर से कहा कि आज मैं सभी मरीजों को देखूंगा। 2008 के बाद पहली बार ऐसा करके मुझे अच्छा लगा।''

राजनीति में सक्रिय होने से पहले सावंत उत्तरी गोवा के असिलो अस्पताल में डॉक्टर थे। वह 2012 में पहली बार गोवा के मुख्यमंत्री के रूप में चुने गए थे। वह मनोहर पर्रिकर के देहांत के बाद 19 मार्च 2019 को गोवा के मुख्यमंत्री बने। उन्हें राजनीति में लाने वाले मनोहर पर्रिकर भी अक्सर अपनी सादगी के लिए सुर्खियों में रहते थे।

सावंत ने कहा, ''यदि कोई 24 घंटे और सातों दिन लड़ रहा है तो वहे हैं स्वास्थ्य कर्मी और इसलिए मैंने अपना जन्मदिन कोरोना वॉरियर्स के नाम समर्पित करने का फैसला किया। संदेश यह जाए कि केवल नेता नहीं पूरा देश उनके पीछे खड़ा है।'' सावंत ने उस अध्यादेश का भी स्वागत किया जिसके तहत डॉक्टर्स पर हमला करने वालों को सात साल तक जेल की सजा का प्रावधान किया गया है। गोवा पहला ऐसा राज्य है जो कोरोना केसों की संख्या 0 पर ला चुका है। यहां मिले सभी 7 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब यहां एक भी कोरोना का एक्टिव केस नहीं है। अगर ऐसे सीएम सब राज्यों को मिल जाये तो भारत पूरी तरह कोरोना मुक्त होगा।

Updated : 24 April 2020 4:59 PM GMT
Tags:    

Amit Senger

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top