Top
Home > स्वदेश विशेष > हर 4 में से एक व्यक्ति को हाइपरटेंशन की समस्या

हर 4 में से एक व्यक्ति को हाइपरटेंशन की समस्या

हर 4 में से एक व्यक्ति को हाइपरटेंशन की समस्या

दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच में ऐसी कई स्वास्थ्य समस्याएं हैं जिससे लोगों का ध्यान पूरी तरह से हट गया है लेकिन यह स्वास्थ्य समस्याएं हर साल लाखों लोगों की जान लेती हैं। ऐसी ही एक मेडिकल कंडीशन हाइपरटेंशन है जिसके बारे में सही समय पर अगर ध्यान ना दिया जाए तो यह जानलेवा भी साबित हो सकती है। इतना ही नहीं, हर 4 में से एक व्यक्ति को हाइपरटेंशन की समस्या होती है लेकिन उन्हें ना तो उसके लक्षण के बारे में पता होता है और ना ही वह इसके प्रति सतर्क रहते हैं। आइए विश्व हाइपरटेंशन दिवस 2020 पर हाइपरटेंशन से जुड़ी हर एक जानकारी के बारे में जानते हैं।

हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर एक गंभीर चिकित्सा स्थिति है जो हार्ट अटैक, स्ट्रोक, किडनी फेल और अंधेपन के जोखिम को बढ़ाती है। यह दुनिया भर में समय से पूर्व होने वाली मौत के प्रमुख कारणों में से एक है। WHO के मुताबिक दुनियाभर में 1.13 बिलियन लोगों को हाइपरटेंशन है। हाइपरटेंशन के मुख्य कारण में खराब खान-पान, व्यायाम न करना, शराब और तंबाकू का सेवन करना माना जाता है।

विश्व हाइपरटेंशन दिवस को इसलिए मनाया जाता है ताकि पूरी दुनिया के लोगों को इसके बारे में जागरूक किया जा सके। इस बार विश्व हाइपरटेंशन दिवस पर इसकी थीम, "मीजर योर बल्ड प्रेशर, कंट्रोल इट और लिव लॉन्गर है। इसका मतलब यह है कि अपने ब्लड प्रेशर को चेक करिए, इसे कंट्रोल करिए और लंबे समय तक जीवित रहिए। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक हर चार में से एक पुरुष और हर पांच में से एक महिला को हाइपरटेंशन की समस्या होती है। फिर भी लोग इसको नजरअंदाज करते हैं। हाइपरटेंशन से जुड़ी कुछ खास जानकारी के बारे में आपको आगे बताया जा रहा है।

हाइपरटेंशन के कारण कई प्रकार की मेडिकल कंडीशन भी पनपने लगती है जिसके कारण व्यक्ति की मौत हो जाती है। नीचे ऐसी ही कुछ मेडिकल कंडीशन के बारे में बताया जा रहा है जिनका खतरा हाइपरटेंशन की वजह से बढ़ जाता है...

हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

स्ट्रोक आ सकते हैं।

किडनी फेल हो सकती है।

अंधेपन का खतरा बढ़ जाता है।

लक्षण

भयानक सिरदर्द।

थकान या भ्रम।

देखने में समस्या महसूस होना।

सीने में दर्द।

सांस लेने मे तकलीफ होना।

अनियमित रूप से दिल की बढ़ने वाली धड़कन।

यूरिन में ब्लड दिखना।

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से बचे रहने के लिए नियमित रूप से ब्लड प्रेशर को चेक की सलाह दी जाती है। इस दौरान जिन व्यक्तियों का ब्लड प्रेशर 140/90 आ रहा है, उन्हें बिना देर किए डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। ब्लड प्रेशर का यह लेवल आपकी सेहत के लिए काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है।

कई लोगों का यह कहना होता है कि उनमें हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती ही नहीं है। दरअसल ऐसा कहना बिल्कुल गलत हो सकता है क्योंकि हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में कुछ व्यक्तियों को विशेष लक्षण नहीं दिखाई देते हैं। इसलिए नियमित रूप से अपना ब्लड प्रेशर चेक करें। इसे कंट्रोल करने के लिए नीचे बताई जा रही कुछ टिप्स को अपना सकते हैं। स्थिति गंभीर होने पर आप डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।


Updated : 17 May 2020 8:04 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top