Top
Home > स्वदेश विशेष > मोदी के चुनाव प्रचार से बढ़ जाता है तीन से चार प्रतिशत वोट !

मोदी के चुनाव प्रचार से बढ़ जाता है तीन से चार प्रतिशत वोट !

मोदी के चुनाव प्रचार से बढ़ जाता है तीन से चार प्रतिशत वोट !
X

स्वदेश वेब डेस्क। क्या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जब किसी राज्य के विधानसभा चुनाव प्रचार में उतरते हैं तो उसके बाद वहां भाजपा का वोट करीब तीन से चार प्रतिशत बढ़ जाता है ? जो भी प्रमुख चुनाव सर्वे एजेंसियां हैं, उनके द्वारा विधानसभा चुनाव के कई माह पहले से जो सर्वे किया जाता है, उनमें दिखाया जाता है कि अभी चुनाव हो तो भाजपा को यहां से इतने प्रतिशत वोट मिलेगा। कुछ माह बाद जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उस राज्य में कई रैलियां करते हैं तो उसके बाद हुए सर्वे में यह परिणाम दिखाया जाता है कि अब भाजपा की स्थिति पहले से सुधर गई है। इस बारे में प्रमुख सर्वे एजेंसी सी-वोटर के प्रमुख यशवंत देशमुख का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रचार में उतरने के बाद भाजपा की स्थिति पहले से बेहतर तो होती है। यह कई चुनावों के परिणाम से भी साबित हुआ है।

इस सवाल पर कि मोदी के प्रचार करने के बाद भाजपा का कितने प्रतिशत तक वोट बढ़ जाता है, यशवंत देशमुख ने कहा, "तीन से चार प्रतिशत तक।" तीन से चार प्रतिशत वोट बढ़ने का मतलब है कि जीत इस तीन व चार प्रतिशत वोट के कारण होती है।

हालांकि कई वरिष्ठ पत्रकार व चुनाव विश्लेषक यशवंत देशमुख राय से सहमत नहीं हैं।

डा. हरि देसाई का कहना है कि ऐसे में इस तर्क का क्या मतलब कि मोदी के प्रचार करने से तीन से चार प्रतिशत वोट बढ़ जाता है। क्योंकि चुनाव परिणाम क्या आता है, वह पार्टी ने 5 वर्ष में क्या किया, उसका परिणाम होता है। एक माह किसी ने प्रचार कर दिया उसका नहीं। हां कोई बड़ी घटना हो जाये वो वोटों का ध्रुवीकरण कर देती हैं। मेरा मानना है कि चुनाव परिणाम आने के बाद ही किसी पार्टी के परफारमेंस का पूर्ण आकलन होना चाहिए।

पत्रकार सुरेश मेहरोत्रा का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हर तरह से मतदाता को प्रभावित करने, लुभाने का काम करते हैं। छत्तीसगढ़ में दो चरण में 12 और 20 नवम्बर को चुनाव है। छत्तीसगढ़ के जिन विधानसभा क्षेत्रों में 12 नवम्बर को चुनाव है वहां के लिए तो चुनाव प्रचार खत्म हो गया है लेकिन जिन विधानसभा क्षेत्रों में 20 नवम्बर को चुनाव है वहां चुनाव प्रचार हो रहा है। इसलिए प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी उस क्षेत्र में प्रचार करने 12 नवम्बर को जायेंगे। वहां वह मतदाताओं को भाषण देंगे, जिसे सभी टीवी चैनल प्रसारित करेंगे। उसी समय छत्तीसगढ़ में जिन क्षेत्र में चुनाव हो रहा होगा वहां के लोग उसे सुनकर कुछ तो प्रभावित होंगे ही। इसी तरह से 20 नवम्बर को छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण का चुनाव है। तो मोदी 20 नवम्बर को छत्तीसगढ़ से सटे म.प्र. में चुनावी रैली करेंगे, जिसका टीवी चैनल वाले प्रसारण करेंगे। इसी तरह से 28 नवम्बर को म.प्र. में चुनाव है तो मोदी राजस्थान में उस दिन बड़ी रैली व चुनावी सभा करेंगे। इस तरह से वह मतदाताओं को अपने पक्ष में करने का हर वह मौका चुन रहे हैं, जिससे मतदाताओं पर उनका असर पड़े। यह उनकी चुनावी रणनीति है। इस तरह के प्रयास करके नरेन्द्र मोदी कुछ प्रतिशत वोट बढ़ाने की कोशिश करते हैं। और राजनीति भी यही है।

इस क्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी प्रदेश में दौरा करने आ रहे हैं। उनके पांच दिवसीय दौरे की शुरुआत ग्वालियर से हो रही है । वे 16 नवम्बर को ग्वालियर के मेला ग्राउंड में सभा को संबोधित करेंगे। इस सभा में ग्वालियर चम्बल संभाग की 20 विधानसभा सीटों के प्रत्याशी उपस्थित रहेंगे।

Updated : 2018-11-12T18:37:58+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top