Top
Home > स्वदेश विशेष > कैसी होती है फाइटर पायलट की जिंदगी!

कैसी होती है फाइटर पायलट की जिंदगी!

कैसी होती है फाइटर पायलट की जिंदगी!
X

स्वदेश वेब डेस्क। वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को पाकिस्तान द्वारा पकड़े जाने पर पूरे देश ने उनकी सलामती की दुआयें कीं, जो सफल रहीं। अभिनंदन ने जिस दिलेरी से पाकिस्तान में खड़े रहकर जबाव दिए, ऐसा सब नहीं कर सकते।

इसके लिए कड़ी ट्रेनिंग और देशभक्ति के जज्बे ने उनको दुश्मनों के बीच में खड़ा रखा। एयरफोर्स में फाइटर पायलट बनना इतना आसान नहीं है, क्योंकि फाइटर पायलट बनने की प्रक्रिया काफी कठिन होती है। भारतीय वायुसेना दुनिया में चौथी सबसे खतरनाक एयरफोर्स है। क्या आपको पता है फाइटर पायलट बनने के लिए कितनी मेहनत करनी पड़ती है।

मानसिक रूप से रखते हैं अपने को तैयार

फाइटर पायलट अपने आप को इस तरह से तैयार रखते हैं। मान लीजिए कहीं भी कभी भी वो दुश्मन के द्वारा युद्धबंदी बनाए जा सकते हैं। ट्रेनिंग के दौरान अपनी मनोदशा इतनी मजबूत रखते हैं कि दुश्मन भी हार मान जाता है।

एक बार फेल तो फेल

इसके लिए आपको भारतीय वायुसेना के फ्लाइंग ब्रांच को ज्वॉइन करना होगा। अगर आप परीक्षा में एक बार फेल हो गए तो जिंआप पायलट बनने के लिए अप्लाई नहीं कर सकते हैं।

हर हालात से लड़ने को तैयार

अभिनंदन जैसे पायलट जो किसी भी हालात से लड़ने के लिए हरदम तैयार रहते हैं। चाहे कैसी भी परिस्थिति हो, हर पल अपने आप को देश के लिए कुर्बान रखने की कुब्बत रखते हैं।

परिवार से पहले देश

ऐसा जिगरा सिर्फ उन ही लोगों के पास होता हो जो देश को पहले रखते हैं। अपनी निजी जिंदगी को भी देश के बाद ही रखते हैं। देश के लिए महीनों अपने परिवार से दूर रहते हैं ये पायलट, फिर भी रहते हैं। कड़ी ट्रेनिंग और देश भक्ति ही आपको मजबूत बनाती है, ऐसा विंग कमांडर अभिनंदन में देखने को मिला है। अपनी जान की परवाह किए बिना मजबूती से डटे रहना हर किसी के बस की बात नहीं है। कभी भी मौत का सामना होने पर कदम नहीं डगमगाते।

अपनी जान की परवाह नहीं

कभी कभी तो पायलट के सामने ऐसी परिस्थिति आती है कि पायलट अपनी जान पर खेल कर कई जिंदगी बचाता है। वो जानता है कि उसकी जान चली जाएगी, फिर भी वो अपनी जान पर खेलकर कई जिंदगियां बचाता है। एयरफोर्स पायलट की ट्रेनिंग में ऐसे पायलट तैयार किए जाते हैं जो देश के लिए तमाम तकलीफें सहन कर लेंगे परन्तु देश से गद्दारी नहीं करेंगे।

विंग कमांडर अभिनंदन भी ऐसे जाबांजों में हैं, जो पाकिस्तान में गिरफ्तार होने के बाद भी देश भक्ति का जो बखूबी परिचय दिया वो काबिले तारीफ है। उनका व्यक्तित्व ही ऐसा होता है कि दुश्मन थर्रा जाता है।

Updated : 2019-03-02T15:19:03+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top