Home > राज्य > अन्य > कांग्रेस में कलह के बीच गहलोत ने चन्नी के लिए रखा लंच, क्या होंगे सियासी मायने?

कांग्रेस में कलह के बीच गहलोत ने चन्नी के लिए रखा लंच, क्या होंगे सियासी मायने?

कांग्रेस में कलह के बीच गहलोत ने चन्नी के लिए रखा लंच, क्या होंगे सियासी मायने?
X

जयपुर। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी मंगलवार पांच सितंबर को जयपुर आएंगे। मुख्यमंत्री चन्नी के सम्मान में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीएम आवास पर भोज का आयोजन किया है। इस भोज में गहलोत कैबिनेट के सभी मंत्री और प्रमुख कांग्रेस नेताओं को बुलाया गया है।

मुख्यमंत्री चन्नी का मंगलवार ग्यारह बजे जयपुर पहुंचने और दोपहर बाद सवा दो बजे वापस रवाना होने का कार्यक्रम है। पंजाब कांग्रेस के सह प्रभारी और प्रदेश के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी भी चन्नी के साथ आ सकते हैं। चन्नी के जयपुर दौरे को कांग्रेस की राजनीति के हिसाब से काफी अहम माना जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि पंजाब कांग्रेस के विवाद के बीच सीएम गहलोत ने सोशल मीडिया पर कैप्टन अमरिंदर सिंह को ही धीरज रखने की सलाह दी थी। वहीं कैप्टन ने पलटवार करते हुए दो टूक शब्दों में कहा था कि गहलोत अपना राजस्थान संभालें, पंजाब में हस्तक्षेप नहीं करें। कैप्टन अमरिंदर सिंह और अशोक गहलोत के बीच अच्छी दोस्ती रही है, लेकिन पंजाब के ताजा घटनाक्रम ने इस दोस्ती को भी प्रभावित किया है। इससे पूर्व भी गहलोत ने कई बार राजनीतिक संकटों में पार्टी के लिए तारणहार की भूमिका निभाई है, सम्भवतः चन्नी गहलोत से पंजाब के सियासी संकट के मैनेजमेंट पर चर्चा करेंगे। गहलोत पिछले पंजाब विधानसभा चुनाव में टिकट तय करने वाली स्क्रीनिंग कमेटी के प्रभारी रह चुके हैं, इसलिए भी चुनाव से पहले चन्नी चर्चा करना चाहते हैं।

Updated : 2021-10-12T15:36:36+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top