Home > राज्य > अन्य > ममता का अहंकार बंगाल को ले डूबेगा : विजयवर्गीय

ममता का अहंकार बंगाल को ले डूबेगा : विजयवर्गीय

ममता का अहंकार बंगाल को ले डूबेगा : विजयवर्गीय
X

कोलकाता। कोरोना संक्रमण को लेकर पश्चिम बंगाल में बिगड़ते हालात का जायजा लेने के लिए पहुंची केंद्रीय टीम पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की नाराजगी की आलोचना भाजपा के प्रदेश प्रभारी कैलाश विजवर्गीय ने की है। उन्होंने कहा है कि ममता बनर्जी का घमंड बंगाल को ले डूबेगा।

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव विजयवर्गीय ने सोमवार को कहा कि बंगाल में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है और जिस तरह से ममता बनर्जी की सरकार लापरवाही बरत रही है। उससे यह संख्या और अधिक बढ़ेगी। विजयवर्गीय ने इस बात पर जोर दिया कि भारत सरकार पश्चिम बंगाल के हालात पर हस्तक्षेप करें और बंगाल में केंद्रीय टीम भेजकर केंद्र सरकार ने बिल्कुल सही काम किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के शासन वाले मध्यप्रदेश के इंदौर में भी केंद्रीय टीम भेजी गई है। जहां-जहां जहां स्थितियां बिगड़ रही है वहां भारत सरकार अपनी टीम भेज रही है। केंद्रीय टीम राज्य सरकारों का सहयोग करेगी। ममता बनर्जी को इस बात का ध्यान रखना चाहिए।

दरअसल मुख्यमंत्री ने इस टीम को बंगाल भेजने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह से स्पष्टीकरण मांगा है। उन्होंने कहा है कि संविधान के किस प्रावधान के तहत इन्हें बंगाल भेजा गया है। यह संघीय ढांचे के अनुकूल नहीं है। सीएम के इस बयान की आलोचना करते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि ममता का यह बयान राज्य की अव्यवस्था को छिपाने की कोशिश है। विजयवर्गीय ने दावा किया कि केंद्रीय टीम की नजर में पश्चिम बंगाल सरकार की लापरवाही ना आ जाए, इसलिए अपना पाप छिपाने हेतु ममता विरोध कर रही हैं। यह बंगाल के हित में नहीं है। भाजपा नेता ने इस बात पर जोर दिया कि केंद्र सरकार की टीम निश्चित तौर पर बंगाल का दौरा करें और जो भी सुझाव दे उसे राज्य सरकार पालन करें। तभी पश्चिम बंगाल में लोग महामारी से बच पाएंगे। उन्होंने कहा कि दीदी का अहंकार पूरे बंगाल को ले डूबेगा। उनकी लापरवाही और अहंकार की वजह से बंगाल बारूद के ढेर पर खड़ा है। दरअसल जो केंद्रीय टीम बंगाल पहुंची है उसे राज्य सरकार ने राज्य में घूमने से रोक दिया है और सचिवालय में तलब किया है। इसे लेकर भी विजयवर्गीय ने ममता सरकार की आलोचना की। उन्होंने कहा कि केंद्रीय पर्यवेक्षक टीम को सचिवालय बुलाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

Updated : 20 April 2020 2:20 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top