Home > राज्य > अन्य > महाराष्ट्र में पूरे माह लॉकडाउन, बाजार शुरू करने की इजाजत

महाराष्ट्र में पूरे माह लॉकडाउन, बाजार शुरू करने की इजाजत

महाराष्ट्र में पूरे माह लॉकडाउन, बाजार शुरू करने की इजाजत
X

मुंबई। केंद्र सरकार की घोषणा के बाद धीरे-धीरे राज्य सरकारें भी लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा कर रही है। यूपी-राजस्थान के बाद महाराष्ट्र ने भी राज्य में कोरोना के आ रहे रिकॉर्ड मामलों के बीच लॉकडाउन को 30 जून तक बढ़ाते हुए इसमें कई तरह की राहत देने का ऐलान किया है। महाराष्ट्र सरकार ने 30 जून तक बढ़ाए गए लॉकडाउन का नाम ''मिशन बिगिन अगेन" दिया है।

महाराष्ट्र में पांच जून से मॉल को छोड़कर बाजारों और दुकानों को खोलने की इजाजत दी गई है तो वहीं निजी दफ्तर आठ जून से 10 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ काम कर सकते हैं। अधिक से अधिक वर्किंग फ्रॉम होम को बढ़ावा देने की बात कही गई है। फिलहाल एक जिला से दूसरे जिला के लिए बस परिचालन की इजाजत नहीं दी गई है। महाराष्ट्र सरकार ने स्पष्ट किया कि पाबंदियों में ढील और चरणबद्ध तरीके से कामकाज की बहाली अभी कोविड-19 निरुद्ध क्षेत्रों में नहीं होगी।

साथ ही रात नौ बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लगा रहेगा। लोगों के घरों से बाहर निकलने पर पाबंदी रहेगी। महाराष्ट्र सरकार ने इसको लेकर गाइडलाइंस जारी किया है। गाइडलाइंस के मुताबिक, पहले फेज में लोगों को खेल के मैदान, बीच, बगीचों में सुबह पांच बजे से लेकर शाम सात बजे तक व्यायाम करने की अनुमति दी गई है।

कोरोना वायरस महामारी के बीच दो मरीजों का इलाज करने से इंकार करने पर ठाणे पुलिस ने तीन अस्पताल प्रबंधनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इनमें से एक गर्भवती महिला थी, जिसकी ऑटोरिक्शा में ही मौत हो गई। अधिकारी ने बताया कि तीनों अस्पताल ठाणे नगर निगम के मुंब्रा इलाके में हैं और नगर निकाय ने इन्हें सील कर दिया है।

अधिकारी ने बताया, ''26 मई को गर्भवती महिला असमा मेहदी (26) का दो अस्पतालों ने इलाज करने से इंकार कर दिया और वह जिस ऑटोरिक्शा से आई थी उसी में उसकी मौत हो गई। तीसरे अस्तपाल ने 25 मई को महक खान नाम की महिला का इलाज करने से इंकार कर दिया था। उन्होंने कहा, ''ठाणे नगर निगम की शिकायत पर मुंब्रा पुलिस ने तीनों अस्पतालों के खिलाफ भादंसं, महामारी रोग कानून और अन्य संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया।

एक अन्य मामले में लॉकडाउन के दौरान नगर निगम के एक अधिकारी को मुंब्रा में लोगों से दुर्व्यवहार को लेकर छुट्टी पर भेज दिया गया है। इस वाकये का एक वीडियो सामने आया था । निगम द्वारा जारी आदेश के आनुसार कलवा-मुंब्रा वार्ड के उप नगर आयुक्त मनीष जोशी के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

Updated : 31 May 2020 1:51 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top