Home > राज्य > अन्य > पत्रकारिता 40 अंडर 40 में चुने गए केशव कुमार, जानें- क्यों मिला सम्मान

पत्रकारिता 40 अंडर 40 में चुने गए केशव कुमार, जानें- क्यों मिला सम्मान

इस सम्मान कार्यक्रम के पहले एडिशन में देश भर के प्रिंट, टेलीविजन और डिजिटल से जुड़े सैकड़ों एंट्रीज की स्क्रूटनी के बाद...

पत्रकारिता 40 अंडर 40 में चुने गए केशव कुमार, जानें- क्यों मिला सम्मान
X

डिजिटल जर्नलिस्ट के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले केशव कुमार को पत्रकारिता 40 अंडर 40 अवार्ड से गुरुवार को सम्मानित किया गया. करीब डेढ़ दशक से पत्रकारिता में सक्रिय केशव कुमार को हिंदी पत्रकारिता में उल्लेखनीय योगदान की वजह से भारत के शीर्ष 40 पत्रकारों में चुना गया. इस लिस्ट में वे 40 नाम शामिल हैं, जिन्होंने 40 साल से कम उम्र में हिंदी पत्रकारिता में अहम उपलब्धियां हासिल की हैं. 'इंडिया इंटरनेशनल सेंटर' (IIC), दिल्ली में उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक और भारत सरकार के केंद्रीय सूचना आयुक्त उदय माहूरकर ने केशव कुमार को सभी जूरी सदस्यों की मौजूदगी में 'समाचार4मीडिया पत्रकारिता 40 अंडर 40' (40 Under 40)' सम्मान प्रदान किया.

पत्रकारिता में खास पहचान बनाने वाले पत्रकारों को मिला सम्मान

इस सम्मान कार्यक्रम के पहले एडिशन में देश भर के प्रिंट, टेलीविजन और डिजिटल से जुड़े सैकड़ों एंट्रीज की स्क्रूटनी, शॉर्टलिस्टिंग और इंटरव्यूज वगैरह तमाम स्तर पर मूल्यांकन के बाद प्रतिष्ठित जूरी सदस्यों ने 40 युवा पत्रकारों को चयन किया. जूरी में समाज और मीडिया जगत के विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित नाम शामिल रहे. उन्होंने विभिन्न कसौटियों पर एंट्रीज का आकलन किया और विजेताओं का चयन उनके द्वारा किए गए उल्लेखनीय कार्य, उनके नेतृत्व कौशल और इंडस्ट्री में उनके योगदान आदि मानदंडों के आधार पर किया. 40 Under 40 लिस्ट तैयार करने का उद्देश्य मीडिया जगत से जुड़े 40 साल से कम उम्र वाले ऐसे पत्रकारों को नई पहचान देना है, जिन्होंने अपने काम के जरिये इंडस्ट्री में खास पहचान बनाई है और शिखर पर पहुंचे हैं.

पत्रकारिता के साथ अध्यापन में भी सक्रिय

पत्रकारिता और जनसंचार में आईआईएमसी, नई दिल्ली से पीजी डिप्लोमा और कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी, हरियाणा से मास्टर्स डिग्री लेने वाले केशव कुमार 16 वर्षों से अधिक समय से पत्रकारिता जगत में सक्रिय हैं. इनमें लगातार 10 वर्षों से वह डिजिटल मीडिया में काम कर रहे हैं. उन्होंने प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक ( रेडियो और टीवी ) मीडिया के साथ ही न्यूज एजेंसी, प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो और 'सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय' (ईएमएमसी) में भी काम किया है. रिपोर्टिंग, डेस्क और टीम लीड जैसे काम संभाल चुके केशव कुमार को मीडिया के लगभग सभी स्वरूपों में काम करने का अनुभव है. देश के विभिन्न जनसंचार शिक्षण संस्थानों में वह बतौर एक्सपर्ट मीडिया अध्यापन से भी जुड़े हुए हैं. केशव कुमार देश के विभिन्न शीर्ष मीडिया संस्थानों में काम कर चुके हैं.

बिहार के बेगूसराय से है नाता

दिल्ली आने से पहले केशव कुमार ने अपने गृह जिले बेगूसराय में स्थानीय अखबारों में काम किया. इसके बाद पटना में रहकर पूरे राज्य में बहुभाषी न्यूज एजेंसी का नेतृत्व संभाला था. बिहार सरकार से मान्यता प्राप्त पत्रकार केशव कुमार ने उसके बाद अकादमिक मजबूती के लिए आईआईएमसी, नई दिल्ली का रुख किया था. IIMC में पढ़ाई के दौरान ही दिल्ली में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स 2010 के लिए काम किया. उस दौरान उन्होंने वनवासी क्षेत्रों (अनसूचित जनजाति) से आने वाले राष्ट्रीय खिलाड़ियों के प्रोफाइल्स का संग्रह प्रकाशित करवाया. इसके अलावा केशव कुमार ने राष्ट्रीय स्तर की विभिन्न स्मारिकाओं का संपादन किया है. साथ ही मीडिया से जुड़े अकादमिक पुस्तकों में चैप्टर लिखे हैं. एफएम रेडियो की भाषा और बिहार के पहले हिंदी पत्रकार केशव राम भट्ट पर उन्होंने दो लघु शोध प्रबंध भी लिखे हैं.

Updated : 2022-04-29T19:31:45+05:30
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top