Home > राज्य > अन्य > हिमाचल में भारी बर्फबारी, तीन नेशनल हाइवे और 434 अन्य सड़कें बंद

हिमाचल में भारी बर्फबारी, तीन नेशनल हाइवे और 434 अन्य सड़कें बंद

हिमाचल में भारी बर्फबारी, तीन नेशनल हाइवे और 434 अन्य सड़कें बंद
X

शिमला। हिमाचल प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से बारिश-बर्फबारी का दौर जारी है। राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में शनिवार रात से बर्फबारी हो रही है। लाहौल-स्पीति और किन्नौर सहित नौ जिलों में ताजा हिमपात हुआ है। शिमला शहर भी बर्फ से लकदक हो गया है।प्रदेश की राजधानी शिमला में साल की दूसरी बर्फबारी हुई है। शहर की सबसे ऊंची चोटी जाखू हिल्स समेत रिज मैदान और मॉल रोड सफेद चादर से ढक गए हैं।

रविवार को राजधानी की सड़कें, मकानों की छतों और यहां तक कि टहनियाें पर भी बर्फ लदी है। जाखू में लगभग एक फीट और शहर में पांच इंच बर्फबारी दर्ज की गई है। शिमला में ताजा हिमपात से सैलानियों के चेहरे खिल गए हैं। वीक एंड पर शिमला पहुंचे सैलानी बर्फबारी के मनमोहक नजारों का लुत्फ उठा रहे हैं। रिज मैदान पर सैलानी बर्फ से अठखेलियां कर बर्फबारी के दृश्यों को अपने कैमरे में कैद कर रहे हैं। बर्फबारी का दीदार करने बड़ी संख्या में सैलानियों ने शिमला में डेरा डाला है। यहां के होटल 80 फीसदी से अधिक भर गये हैं।

बर्फबारी की वजह से शिमला शहर के अंदरूनी मार्ग व सड़कें बाधित हैं। नगर निगम प्रशासन द्वारा इन्हें बहाल करने का कार्य प्रगति पर है। उधर, भारी बर्फबारी के कारण शिमला के ऊपरी इलाके का राज्य मुख्यालय से सम्पर्क कट गया है। पूरे प्रदेश में तीन नेशनल हाइवे और 434 सड़कें बंद हैं। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के मुताबिक लाहौल-स्पीति में 174, चम्बा में 104, किन्नौर में 62 ल, शिमला में 36, मंडी में 35 और कुल्लू में 20 सड़कें अवरुद्ध हैं।

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की दैनिक रिपोर्ट पर नजर डालें तो, रविवार सुबह तक कांगड़ा जिला के बड़ा भंगाल में चार फुट, चम्बा जिला के भरमौर व डलहौजी में एक फुट से अधिक, तो सिरमौर जिला के हरिपुरधार में एक फुट बर्फ रिकॉर्ड की गई है। इसी तरह कुल्लू जिला की अटल टनल में 10 इंच, तो लाहौल स्पीति जिला के सिसु और मंडी जिला की शिकारी माता में छह-छह इंच तक बर्फ गिरी है। पराशर लेक, सोलन जिला के चायल , किन्नौर के कल्पा और गुलाबा में से हर जगह पांच इंच बर्फ रिकॉर्ड की गई। बीड बिलिंग में चार इंच, तो केलांग और शिमला के कुफरी में तीन -तीन इंच बर्फबारी हुई है।

बारिश-बर्फबारी से तापमान में गिरावट आने से पूरा प्रदेश भीषण शीतलहर की चपेट में आ गया है। केलंग में न्यूनतम तापमान -5, कुफरी में -2.8, कल्पा में -2, शिमला में -0.2 और मनाली में शून्य डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग ने शिमला समेत पर्वतीय इलाकों में आगामी 24 घण्टों के दौरान और बर्फबारी की संभावना जताई है।

Updated : 2022-01-11T10:58:30+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top