Top
Home > राज्य > अन्य > पुलिस की मौजूदगी में भाजपा कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

पुलिस की मौजूदगी में भाजपा कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने दिया वारदात को अंजाम

पुलिस की मौजूदगी में भाजपा कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में सत्तारुढ़ तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने भाजपा कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना रविवार को मिदनापुर जिले के खजूरी में घटित हुई। मृतक की पहचान पबित्रा दास के रूप में हुई है, जो भाजपा का जिला सचिव बताया जा रहा है। गोली पबित्रा के बाएं हाथ में लगी है। उसका दोष सिर्फ इतना था कि उसने स्थानीय तृणमूल पंचायत के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन किया। पंचायत ने निविदा के बिना चक्रवात अम्फान में उखड़े पेड़ों को बेचने का कथित तौर पर फैसला लिया था।

जिला पुलिस अधिकारी के मुताबिक भाजपा कार्यकर्ता पबित्रा को उस समय गोली मार दी गई जब वह तृणमूल पंचायत के एक फैसले के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदर्शन के दौरान तृणमूल कांग्रेस के लोग आ पहुंचे और दोनों के बीच झड़प् हो गई। पुलिस के अनुसार झड़प के दौरान ही पबित्रा दास के बाएँ हाथ में गोली लगी। जहां अस्पताल में चिकित्सकों ने पबित्रा को मृत घोषित कर दिया।

ममता सरकार दे रही गुंडों का संरक्षण: दिलीप घोष

भाजपा की बंगाल ईकाई अध्यक्ष दिलीप घोष ने आरोप लगाया कि तृणमूल समर्थकों ने पुलिसकर्मियों की उपस्थिति में दास और अन्य भाजपा समर्थकों पर हमला किया। उन्होंने कहा कि दास पार्टी के बहुत सक्रिय कार्यकर्ता थे। उन्होंने स्थानीय पंचायत सदस्यों के अवैध कृत्य के खिलाफ विरोध किया। जब सत्ता पक्ष के समर्थकों ने हमला किया तो पुलिस मूकदर्शक बनकर खड़ी रही।

ठससे पहले सोनारपुर में भाजपा नेता नारायण विश्वास की नृशंस हत्या कर दी गई। पहले मृतक को गोली मारी गई और जब वो जख्मी होकर नीचे गिर गए, तो हमलावरों ने धारदार हथियार से उनकी हत्या कर दी। बीरभूम के नानूर इलाके में 47 वर्षीय भाजपा कार्यकर्ता शंकरी बागड़ी की 21 अक्टूबर 2019 को टीएमसी कार्यकर्ताओं ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

Updated : 2020-07-02T06:47:34+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top