Home > राज्य > अन्य > महाविकास अघाड़ी के बंद का भाजपा ने किया विरोध, कहा- उप्र सरकार को बदनाम करने की साजिश

महाविकास अघाड़ी के बंद का भाजपा ने किया विरोध, कहा- उप्र सरकार को बदनाम करने की साजिश

महाविकास अघाड़ी के बंद का भाजपा ने किया विरोध, कहा- उप्र सरकार को बदनाम करने की साजिश
X

मुंबई। भारतीय जनता पार्टी ने महाराष्ट्र बंद का विरोध किया है। भाजपा नेताओं का आरोप है कि महाराष्ट्र में सत्ताधारी शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी पार्टी की महाविकास आघाड़ी उत्तर प्रदेश को बदनाम करने की साजिश रच रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इसे ढोंग बताया है, उन्होंने पत्रकारों से चर्चा में कहा की "महाविकास आघाडी सरकार के सत्ता में आने के बाद महाराष्ट्र में अब तक 2 हजार किसानों की आत्महत्या हो चुकी है. हाल ही में आई बारिश और बाढ़ की वजह से किसानो को जबर्दस्त नुकसान हुआ है. उनके लिए कोई मदद नहीं पहुंचाई गई. मराठवाडा के किसानों के आंसू पोंछने का इनके पास वक्त नहीं है. वहां के संरक्षक मंत्री अब तक वहां गए भी नहीं हैं. अगर किसानों से सहानुभूति है तो मराठवाडा के किसानों के लिए महाविकास आघाडी पैकेज क्यों नहीं घोषित करती?"

पड़ोसी गांव में धुंआ उड़ाने जैसा

वहीं भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत पाटिल ने कहा कि महाराष्ट्र बंद का हास्यास्पद प्रयास महाविकास आघाड़ी सरकार कर रही है। लखीमपुर के किसानों के प्रति हमारी पूरी सहानुभूति है। इसलिए पूरी जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में है। हमारे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगीजी सक्षम हैं, वह किसानों को न्याय दिलाने के लिए कड़े फैसले जरूर लेंगे। शिवसेना नेता संजय राऊत आप महाराष्ट्र के किसानों की बात करते हैं। सूखे के कारण किसान आत्महत्या के कगार पर है। पंचनामें की चपेट में आज भी किसान फंसे हुए हैं। महाराष्ट्र बंद का आपका आह्वान आपके घर में आग लगने पर पड़ोसी गांव में धुंआ उड़ाने जैसा है। भाजपा की इकाई उत्तर भारतीय मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष संजय पांडे ने कहा कि महाविकास आघाडी सरकार का महाराष्ट्र बंद दिखावा है। यह उत्तर प्रदेश को बदनाम करने का षड्यंत्र है।

यह कमजोर सरकार -

भाजपा की प्रदेश उपाध्यक्ष चित्रा वाघ ने कहा कि राज्य की नीतियों को लेकर यह कमजोर सरकार है। दूसरों के नाम पर राजनीति करने की पहल महाराष्ट्र सरकार कर रही है। हर दिन रेप और अत्याचार की घटनाओं से महाराष्ट्र दहल उठा है। भारी बारिश और बाढ़ से किसान बेहाल है,महाराष्ट्र सरकार साप्ताहिक वसूली में तल्लीन है। आपको शर्म आनी चाहिए। भाजपा व्यापार आघाड़ी ने कहा कि एक ओर महाराष्ट्र सरकार कोरोना से उध्वस्त व्यापारी वर्ग को कोई मदद नहीं दे रही है और घाटे में आ रहे व्यापारियों को बंद का आह्वान कर एक और धक्का दे रही हैं। त्योहारों का सीजन का हर एक दिन महत्वपूर्ण होता है। व्यापारी वर्ग बंद का विरोध कर रहा है। महाविकास अघाड़ी को बिना किसी राजनीतिक हथकंडे के महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित किसानों की उचित मदद करनी चाहिए।

Updated : 2021-10-17T00:11:24+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top