Home > खेल > अन्य खेल > ओलंपिक में भारत : पीवी सिंधु ने जीत से की शुरुआत, नौकायन लाइटवेट सेमीफाइनल में पहुंचे

ओलंपिक में भारत : पीवी सिंधु ने जीत से की शुरुआत, नौकायन लाइटवेट सेमीफाइनल में पहुंचे

ओलंपिक में भारत : पीवी सिंधु ने जीत से की शुरुआत, नौकायन लाइटवेट सेमीफाइनल में पहुंचे
X

टोक्यो। भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक के महिला बैडमिंटन स्पर्धा के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है।सिंधु ने रविवार को पहले दौर के मुकाबले में यहां मुसाशिनो फॉरेस्ट प्लाजा कोर्ट 2 में ग्रुप जे मैच में इजरायल की केन्सिया पोलिकारपोवा को सीधे सेटों में हरा दिया। सिंधू ने पोलिकारपोवा को 28 मिनट तक चले मुकाबले में 21-7, 21-10 से हराया।

सिंधु ने पहले गेम में अपने प्रतिद्वंद्वी को कोई मौका नहीं दिया। सिंधु ने पहला गेम आसानी से जीता। इसके बाद उन्होंने दूसरे गेम में भी अपना प्रभाव जारी रखा व पोलिकारपोवा को वापसी करने का कोई मौका नहीं दिया। सिंधु ने आसानी से दूसरे गेम के साथ मैच भी अपने नाम कर लिया।

नौकायन लाइटवेट सेमीफाइनल में पहुंचे -

वहीँ अर्जुन लाल जाट और अरविंद सिंह ने टोक्यो ओलंपिक में पुरुषों की नौकायन लाइटवेट डबल स्कल्स स्पर्धा के रेपेशाज दौर में तीसरे स्थान पर रहते हुए सेमीफाइनल में जगह बना ली है। भारतीय जोड़ी ने 6:51.36 का समय निकाला।

राउंड 2 में प्रतिस्पर्धा करते हुए, भारतीय जोड़ी 6:51.36 के समय के साथ तीसरे स्थान पर रही। अर्जुन बोवर थे जबकि अरविंद पर स्ट्रोकर की जिम्मेदारी थी। शुरुआती 1000 मीटर तक चौथे स्थान पर चल रही इस जोड़ी ने बाद में रफ्तार पकड़कर तीसरा स्थान हासिल किया। पोलैंड 6:43.44 के समय के साथ शीर्ष पर रहा जबकि स्पेन दूसरे स्थान पर रहा। छह टीमों की स्पर्धा में अंतिम तीन टीमों ने फाइनल सी के लिए क्वालीफाई किया। इससे पहले कल दूसरी हीट में उतरी भारतीय जोड़ी ने छह टीमों की स्पर्धा में 6:40.33 का समय निकाला और सेमीफाइनल में जगह नहीं बना सकी थी।

निशाने बाजों ने किया निराश-

महिला निशानेबाज मनु भाकर और यशस्विनी सिंह देसवाल टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में जगह बनाने से चूक गईं।अपना पहला ओलंपिक खेल रहीं दुनिया की नंबर दो निशानेबाज 19 वर्ष की मनु ने शुरूआत अच्छी की, लेकिन उनकी पिस्टल में कोई तकनीकी खराबी आने का उनके प्रदर्शन पर असर पड़ा। पहली सीरीज में 98 स्कोर करने के बाद उन्होंने 95, 94 और 95 स्कोर किया जिससे शीर्ष दस से बाहर हो गई।

मनु ने पांचवीं सीरीज में 98 स्कोर करके वापसी की कोशिश की लेकिन आखिरी सीरीज में शुरू में दो 10 के बाद 8 और तीन 9 स्कोर से वह पीछे रह गई। उनका स्कोर 575 रहा जबकि फ्रांस की सेलाइन गोबरविले उनसे दो अंक आगे रहकर आठवां और आखिरी क्वालीफिकेशन स्थान हासिल करने में कामयाब रही।

वहीं, नंबर एक निशानेबाज यशस्विनी खराब शुरूआत के बाद दूसरी सीरीज में 98 स्कोर के साथ लौटी थी जिसमें पांच बार उन्होंने 10 स्कोर किया। उनका कुल स्कोर 94, 98, 94, 97, 96, 95 की सीरीज के बाद 574 रहा। शीर्ष पर रही चीन की जियान रानशिंग ने 587 अंक लेकर ओलंपिक रिकॉर्ड बनाया। यूनान की अन्ना कोराक्की दूसरे और रूसी ओलंपिक समिति की बी वितालिना तीसरे स्थान पर रहीं।


Updated : 25 July 2021 6:00 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top