Top
Home > खेल > अन्य खेल > साउथ कोरिया में कर रहा है भारत का प्रतिनिधित्व बेगूसराय का लाल

साउथ कोरिया में कर रहा है भारत का प्रतिनिधित्व बेगूसराय का लाल

साउथ कोरिया में कर रहा है भारत का प्रतिनिधित्व बेगूसराय का लाल
X

बेगूसराय। 11 से 14 अगस्त तक साउथ कोरिया के सियोल में आयोजित जी वन इवेंट कीमुनयोंग कप इंटरनेशनल ओपन तायक्योंडो कॉम्पिटिशन चैंपियनशिप में बेगूसराय का लाल भारत का प्रतिनिधित्व कर रहा है। हलांकि वह खेलने गया है सरकारी नहीं, निजी लोगों की मदद से। वह प्रतिभागी है बेगूसराय जिला के एक गांव नींगा का रहने वाला कैसर रेहान। कैसर रेहान ने 2009 में कोच नंदू कुमार एवं मणिकांत कुमार के संरक्षण में ताइक्वांडो का अभ्यास बरौनी रिफाइनरी टाउनशिप कल्याण केन्द्र स्थित एकेडमी में शुरू किया था। रेहान ने फोन पर बताया कि ताइक्वांडो सीखने का उद्देश्य था खुद को मजबूत करना और सेल्फ डिफेंस। धीरे-धीरे जुनून बढ़ता गया और प्रतिभा निखरती गई। ताइक्वांडो संघ के जिला सचिव सह कोच नंदू कुमार एवं मणिकांत कुमार की देखरेख में लगातार अभ्यास एवं लगनशीलता के दम पर रेहान दर्जनों पुरस्कार झटक चुका है। जिला स्तरीय पदक से शुरू हुआ विजय अभियान राज्य स्तर, राष्ट्रीय स्तर तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक पहुंचा और आज वह विदेश में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहा है। जिला स्तरीय प्रतियोगिता में गोल्ड मैडल, राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में गोल्ड एवं सिल्वर मैडल, राष्ट्रीय स्तर के प्रतियोगिता में हरियाणा, मुंबई, उत्तर प्रदेश, दिल्ली में ब्रॉउंज, सिल्वर एवं गोल्ड मैडल पर कब्जा करने वाले रेहान ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नेपाल में आयोजित सिल्वर थाईलैंड खेल में भी ब्रॉउंज मैडल अपने नाम कर लिया। इसी का प्रतिफल है कि उसे खेल दिवस पर दो बार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं जीतन राम मांझी से खेल सम्मान मिला। खेल के माध्यम से बेगूसराय का नाम रौशन करने का सिलसिला और तेज करने के लिए रेहान ने जब दिल्ली अकेडमी का रूख किया तो आज उसे विदेश में भारत के नेतृत्व का अवसर मिल गया। कैसर रेहान कहते हैं कि अपने मां, गुरु एवं शिव प्रकाश भारद्वाज जैसे अन्य बुद्धिजीवियों के सहयोग से ही सही, लेकिन कभी खेल की नर्सरी के नाम से प्रसिद्ध रहे बेगूसराय का नाम दुनिया में रौशन करते रहेंगे। कसक बस इतनी है कि सम्मान मिला दर्जन भर से अधिक, लेकिन खेलने के लिए सरकारी मदद नहीं मिली।

Updated : 2018-08-10T19:58:21+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top