Top
Home > खेल > अन्य खेल > मैं टाइमिंग के लिए दौड़ती हूं

मैं टाइमिंग के लिए दौड़ती हूं

मैं टाइमिंग के लिए दौड़ती हूं
X

नई दिल्ली, ब्यूरो। विश्व स्तर की प्रतियोगिता में ट्रैक स्पर्धाओं में स्वर्ण पदक जीतने पहली भारतीय महिला एथलीट हिमा दास जब ट्रैक पर उतरती हैं तो उनका लक्ष्य पदक नहीं बल्कि अपनी 'टाइमिंगÓ में सुधार करना होता है। फिनलैंड के तम्पारे में आईएएएफ विश्व अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 400 मीटर में सोने का तमगा जीतने वाली 18 वर्षीय हिमा ने जकार्ता एशियाई खेलों में महिलाओं की चार गुणा 400 मीटर में स्वर्ण तथा 400 मीटर की व्यक्तिगत स्पर्धा और मिश्रित चार गुणा 400 मीटर में रजत पदक जीते। दिलचस्प बात यह है कि छह महीने पहले तक यह उनकी मुख्य स्पर्धा नहीं थी। इस साल के अपने शानदार प्रदर्शन के लिये अर्जुन पुरस्कार पाने वाली हिमा 400 मीटर को अब अपनी मुख्य स्पर्धा मानती हैं।

Updated : 2018-09-27T19:02:42+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top