Top
Home > खेल > अन्य खेल > कार्मेलिटा जेटर ने कहा - भारतीय धावकों को अच्छे कोच की जरूरत

कार्मेलिटा जेटर ने कहा - भारतीय धावकों को अच्छे कोच की जरूरत

कार्मेलिटा जेटर ने कहा - भारतीय धावकों को अच्छे कोच की जरूरत
X

नई दिल्ली। तीन बार की ओलंपिक पदक विजेता अमेरिका की कार्मेलिटा जेटर ने गुरुवार को कहा कि भारतीय धावकों को अच्छे कोचों की जरूरत है। अगर कोई बड़ा नाम कोच के रूप में भारतीय एथलीटों के साथ होगा तो निश्चित रूप से भविष्य में भारतीय धावक विश्व पटल पर अपनी छाप छोड़ेंगे। इसके अलावा उन्होंने भारतीय धाविका दुती चंद की तारीफ करते हुए कहा कि वह काफी बेहतरीन धाविका हैं।

उन्होंने कहा कि मैंने ओलंपिक खेलों में दुती चंद को देखा है। उन्होंने कुछ उल्लेखनीय चीजें की हैं। मुझे उम्मीद है कि अधिक युवा महिलाएं आगे आएंगी और देश का प्रतिनिधित्व करेंगी। मुझे लगता है कि भारतीय स्प्रिंटरों को अच्छे कोचों की जरूरत है। अगर कोई बड़ा नाम कोच के रुप में भारतीय एथलीटों के साथ होगा तो निश्चित रूप से भविष्य में भारतीय स्प्रिंटर्स विश्व पटल पर अपनी छाप छोड़ेंगे।

उन्होंने दिल्ली हाफ मैराथन के 15वें संस्करण की अंतरराष्ट्रीय इवेंट एंबेसडर बनने पर खुशी जताते हुए कहा कि वह इस हाफ मैराथन की एंबेसडर बनने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि यह आश्चर्यजनक है कि रविवार को होने वाले आईएएएफ गोल्ड लेबल रोड रेस दिल्ली हाफ मैराथन में 40,000 से अधिक प्रतिभागी हिस्सा ले रहे हैं। सभी धावकों को मैं शुभकामनाएं देती हूं।

तीन बार ओलंपिक पदक विजेता और विश्व रिकॉर्ड धारक रही जेटर ने 2009 में शंघाई गोल्डन ग्रां प्री में 100 मीटर रेस में 10.64 सेकेंड के साथ स्वर्ण पदक हासिल किया था। इसी के साथ उन्होंने 100 मीटर रेस में दूसरी सबसे तेज महिला होने का रिकॉर्ड भी बना दिया था।

यहां आयोजित एक कार्यक्रम में 39 वर्षीय जेटर ने कहा कि भारत में रहने के दौरान बहुत सारी चीजें हैं जो वह देखना चाहती हैं।

वर्ष 2017 में संन्यास ले चुकीं जेटर ने कहा कि ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो मैं भारत में देखना चाहता हूं। हालांकि, नंबर एक चीज जो मैं करना चाहता हूं, वह एक साड़ी खरीदना है। मैंने देखा है कि महिलाओं को अद्भुत रंग पहनना पसंद है और वे कैसे इस पोशाक पर गर्व करती हैं। मैं साड़ी पहनना चाहती हूं और भारतीय संस्कृति में फिट होना चाहता हूं। मुझे उम्मीद है कि मैं अगले कुछ दिनों में ताजमहल का दौरा करूंगी।

Updated : 17 Oct 2019 3:28 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top