Home > खेल > क्रिकेट > वेस्ट इंडीज को हरा इंडिया लीजेंड्स ने फाइनल में बनाई जगह, सचिन ने लगाया अर्धशतक

वेस्ट इंडीज को हरा इंडिया लीजेंड्स ने फाइनल में बनाई जगह, सचिन ने लगाया अर्धशतक

युवराज ने खेली आतिशी पारी

वेस्ट इंडीज को हरा इंडिया लीजेंड्स ने फाइनल में बनाई जगह, सचिन ने लगाया अर्धशतक
X

रायपुर। कप्तान सचिन तेंदुलकर और युवराज सिंह की विस्फोटक पारी के बाद अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर इंडिया लेजेंड्स ने बुधवार रात यहां शहीद वीर नारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए एनअकेडमी रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज टी20 टूर्नामेंट के पहले सेमीफाइनल में वेस्टइंडीज लेजेंड्स को 12 रनों से हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया।

इंडिया लेजेंडस ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट पर 218 रनों का विशाल स्कोर बनाया और फिर वेस्टइंडीज को निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट पर 206 रनों पर रोक दिया। फाइनल में अब इंडिया लेजेंडस का सामना रविवार को श्रीलंका लेजेंड्स और दक्षिण अफ्रीका लेजेंड्स के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा।

वेस्टइंडीज पारी -

इंडिया लेजेंड्स से मिले 219 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज लेजेंडस का पहला विकेट 19 रन के स्कोर पर ही विलियम पर्किंस (9) के रूप में गिरा गया। इसके बाद ड्वेन स्मिथ (63) ने इस सीरीज में अपना पहला अर्धशतक पूरा किया और विंडीज के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया। स्मिथ ने नरसिंह डोनरेन (59) के साथ दूसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी करके वेस्टइंडीज को जीत के करीब पहुंचाने की कोशिश की।

हालांकि खतरनाक होती जा रही इस साझेदारी को इरफान पठान ने स्मिथ को आउट करके तोड़ा। इरफान ने स्मिथ को यूसुफ पठान के हाथों कैच कराया। स्मिथ ने 36 गेंदों पर नौ चौके और दो छक्के लगाए। स्म्थि के आउट होने के बाद प्रज्ञान ओझा ने अगले ही ओवर में किकि एडवडर्स को स्टंप्स कराके खाता खोले बिना पवेलियन भेज दिया। 120 रन पर अपने तीन विकेट गंवाने के बाद कप्तान ब्रायन लारा बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर उतरे।

लारा और डोनरेन ने चौथे विकेट के लिए 80 रनों की साझेदारी करके विंडीज को मैच में बनाए रखा। टीम को अंतिम ओवर में मैच जीतने के लिए 17 रन बनाने थे, लेकिन वह निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट पर 206 रन ही बना सकी। डोनरेन ने 44 गेंदों पर पांच चौके और दो छक्के लगाए। लारा ने 28 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के के सहारे 46 रन बनाए। इंडिया लेजेंड्स के लिए विनय कुमार को दो और इरफान पठान, मनप्रीत गोनी तथा प्रज्ञान ओझा को एक-एक विकेट मिले।

भारतीय पारी -

इससे पहले, कप्तान सचिन तेंदुलकर (65) और युवराज सिंह (20 गेंदों पर 1 चौका और 6 छक्कों की मदद से नाबाद 49 रन) की विस्फोटक पारी के दम पर इंडिया लेजेंड्स ने तीन विकेट पर 218 रनों का विशाल स्कोर बनाया और विंडीज को निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट पर 206 रनों पर रोक दिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंडिया को वीरेंद्र सहवाग (35) और तेंदुलकर ने पहले विकेट के लिए 5.3 ओवर में 56 रन जोड़कर विस्फोटक शुरुआत दी।

सहवाग को टिनो बेस्ट ने अपनी ही गेंद पर कैच आउट किया। सहवाग ने 17 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्का जड़ा। सहवाग के पवेलियन लौटने के बाद सचिन ने मोहम्मद कैफ (27) के साथ दूसरे विकेट के लिए 38 गेंदों पर 53 रनों की साझेदारी की। कैफ ने 21 गेंदों पर दो चौके और दो छक्के लगाए। कैफ को नागामूटू ने आस्टिन के हाथों कैच कराया।

हालांकि कप्तान सचिन ने एक छोर संभाले रखा और इस सीरीज में अपना लगातार दूसरा अर्धशतक पूरा किया। सचिन 42 गेंदों पर छह चौके और तीन छक्के लगाए। वह सीमा रेखा पर बेस्ट की गेंद पर किकि एडवडर्स के हाथों लपके गए। कैफ और सचिन के बीच तीसरे विकेट के लिए 31 रनों की ही साझेदारी हो पाई।

युवराज ने बनाए 49 रन -

इसके बाद यूसुफ पठान ने 20 गेंदों पर दो चौके और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 37 रन और युवराज सिंह ने 20 गेंदों पर एक चौका और 6 छक्कों की मदद से नाबाद 49 रनों की विस्फोटक पारी खेलकर इंडिया लेजेंड्स को तीन विकेट पर 218 रनों के विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया। दोनों बल्लेबाजों ने चौथे विकेट के लिए 78 रन जोड़े। वेस्टइंडीज लेजेंडस के लिए टीनो बेस्ट ने दो और रेयान आस्टिन ने एक विकेट लिया।

Updated : 2021-10-12T16:21:38+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top