Home > खेल > क्रिकेट > प्वॉइंट टेबल में टॉप तीन में पहुंच गई आरसीबी, वॉशिंगटन सुंदर का रहा है बड़ा रोल

प्वॉइंट टेबल में टॉप तीन में पहुंच गई आरसीबी, वॉशिंगटन सुंदर का रहा है बड़ा रोल

प्वॉइंट टेबल में टॉप तीन में पहुंच गई आरसीबी, वॉशिंगटन सुंदर का रहा है बड़ा रोल
X

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोरकी टीम का प्रदर्शन अबतक काफी शानदार रहा है। कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ मिली जीत के साथ टीम प्वॉइंट टेबल में टॉप तीन में पहुंच गई है। शुरुआती मुकाबलों में टीम ने बल्लेबाजी के दम पर जीत दर्ज की थी, लेकिन पिछले कुछ मैचों में टीम के गेंदबाजों ने भी गेंद से लाजवाब प्रदर्शन करके दिखाया है। हालांकि, आरसीबी की तरफ वॉशिंगटन सुंदर ऐसे गेंदबाज रहे हैं, जिन्होंने पहले मैच से ही टीम की जीत में अहम योगदान दिया है। इस पोस्ट में आपको बताएंगे कैसे सुंदर ने अपनी घूमती गेंदों से बैंगलोर की किस्मत को इस सीजन पलटा है।

वॉशिंगटन ने आईपीएल 2020 में खेले 7 मैचों के अंदर भले ही सिर्फ 5 विकेट चटकाए हो, लेकिन इर दौरान उनका इकॉनमी महज 4.90 का रहा है। सुंदर कप्तान कोहली का इस सीजन सबसे बड़ा हथियार साबित हुए हैं, विराट ने उनका शुरुआत से ही पावरप्ले में इस्तेमाल किया है। सुंदर पावरप्ले में गेंदबाजी करते हुए बल्लेबाजों को हाथ खोलने का कोई मौका नहीं देते हैं, जिसके चलते बल्लेबाजों पर बड़े शॉट्स लगाने का दबाव बढ़ता है और वो अपना विकेट तोहफे के तौर पर देकर चलते बनते हैं। वॉशिंगटन द्वारा बनाए गए प्रेशर का फायदा टीम के अन्य गेंदबाजों को भी मिलता है। सुंदर बीच के ओवरों में भी आकर रनों की गति पर लगाम लगाने में कामयाब रहते हैं, जिसके चलते आरसीबी सामने वाली टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचने नहीं देती है।

केकेआर के खिलाफ शारजाह के छोटे मैदान पर भी सुंदर ने बेहद किफातयती गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में सिर्फ 20 रन देकर नीतिश राणा और इयोन मोर्गन जैसे बल्लेबाजों का विकेट अपने नाम किया था। सिर्फ यही नहीं, इस साल आरसीबी के खिलाफ किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस ने जिन मैचो में 200 से ज्यादा रन बनाए, उसमें भी सुंदर काफी किफायती रहे थे। पंजाब के खिलाफ कप्तान कोहली ने उनसे 2 ही ओवर करवाए थे, जिसमें उन्होंने महज 13 रन दिए थे। मुंबई के बल्लेबाजों ने भले ही आरसीबी के गेंदबाजों की जमकर पिटाई करते हुए 201 रन बनाए रहे हो, लेकिन सुंदर के खिलाफ किसी ने बड़ा शॉट खेलने की कोशिश नहीं करी थी उस मैच में वॉशिंगटन सुंदर ने 4 ओवर के स्पेल में 12 रन देकर रोहित शर्मा का विकेट लिया था।


यह दिखाता है कि सुंदर इस सीजन गेद से बैंगलोर के लिए कितने कारगर साबित हुए हैं। वो गेंद के साथ-साथ बल्ले से भी बड़े शॉट्स लगाने का दम रखते हैं यही वजह है कि कप्तान कोहली उनको आक्रामक बल्लेबाज शिवम दुबे से ऊपर भेजते हैं। सुंदर कप्तान कोहली के लिए इस सीजन वो खिलाड़ी बनकर उभरे हैं, जिन्होंने हर तरह से आरसीबी की मुश्किलों को कम किया है और अगर वॉशिंगटन गेंद से इसी तरह आने वाले मैचों में कमाल दिखाते रहे तो यकीन मानिए कोहली की 12 साल से आईपीएल ट्रॉफी को उठाने की तमन्ना इस साल जरूर पूरी हो सकती है।

Updated : 13 Oct 2020 9:05 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top