Top
Home > खेल > क्रिकेट > मुथैया मुरलीधरन ने कहा - देश से भी ज्यादा मुश्किल है आईपीएल में खेलना

मुथैया मुरलीधरन ने कहा - देश से भी ज्यादा मुश्किल है आईपीएल में खेलना

मुथैया मुरलीधरन ने कहा - देश से भी ज्यादा मुश्किल है आईपीएल में खेलना

नई दिल्ली। श्रीलंकाई क्रिकेटर मुथैया मुरलीधरन का मानना है कि देश के लिए खेलने से भी ज्यादा मुश्किल है -आईपीएल में खेलना। मुरलीधरन ने यह बात रविचंद्रन अश्विन के शो 'डीआरएस विद ऐश' में कही। टेस्ट और वनडे क्रिकेट में दुनिया में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले मुरलीधरन ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में प्रतियोगिता का स्तर बहुत ऊपर है और इसमें विदेशी खिलाड़ियों को परफॉर्मेंस के बावजूद बाहर बैठना पड़ता है।

उन्होंने आगे कहा, कि ''अपने देश के लिए खेलते समय आप जानते हैं कि आप परफॉर्म करेंगे, आपको इस बात का विश्वास होता है कि आप मैच में खेलेंग। आपको गेंदबाजी करने का अवसर मिलेगा, लेकिन आईपीएल में इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आपने कितना अच्छा किया है, आपको टीम संयोजन के लिए बाहर बैठना पड़ता है। यह आईपीएल का हिस्सा है और इसे आपको स्वीकार करना होता है।''

दिग्गज स्पिनर ने कहा, आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स, कोच्चि टस्कर और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए आठ सीजन खेल चुके मुरली ने कहा, ''मुझे भी बाहर बैठना पड़ा, लेकिन मैं कभी असंतुष्ट नहीं हुआ। यह गेम का हिस्सा है।'' 2008 से 2015 तक मुरली आईपीएल के हर सीजन में खेले।

मुरलीधरन ने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में उन्होंने 46 मैचों में 52 विकेट लिए। मुरली अंतिम सीजन आरसीबी के लिए 2015 में खेले। दूसरी तरफ अश्विन दिल्ली कैपिटल्स के लिए यूएई में आईपीएल 2020 में खेलेंगे। वह दो सीजन किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान रह चुके हैं।

दिल्ली कैपिटल्स में उनके साथ अमित मिश्रा, संदीप लामिछाने और अक्षर पटेल जैसे स्पिनर भी होंगे। आईपीएल का 13वां संस्करण 19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में खेला जाएगा। बीसीसीआई ने इस टूर्नामेंट पूरा शेड्यूल अभी घोषित नहीं किया है। वहीं, टीमों ने यूएई पहुंचना शुरू कर दिया है।

Updated : 21 Aug 2020 5:21 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top