Home > खेल > क्रिकेट > महिला वर्ल्ड कप : भारतीय टीम शनिवार को वेस्टइंडीज से भिड़ेगी, शीर्ष क्रम बना चिंता का कारण

महिला वर्ल्ड कप : भारतीय टीम शनिवार को वेस्टइंडीज से भिड़ेगी, शीर्ष क्रम बना चिंता का कारण

महिला वर्ल्ड कप : भारतीय टीम शनिवार को वेस्टइंडीज से भिड़ेगी, शीर्ष क्रम बना चिंता का कारण
X

हैमिल्टन। भारतीय महिला क्रिकेट टीम विश्व कप के अपने तीसरे लीग मैच में शनिवार को वेस्टइंडीज का सामना करेगी। इस मुकाबले में अभी तक खराब प्रदर्शन कर रहा भारतीय शीर्ष क्रम लय में आना चाहेगा। न्यूजीलैंड के खिलाफ 261 रनों के लक्ष्य से 62 रन दूर रहने पर स्मृति मंधाना, मिताली राज, युवा यास्तिका भाटिया और ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा आलोचकों के निशाने पर रहीं। हालांकि हरमनप्रीत कौर ने 62 गेंदों में 71 रन की पारी खेली, लेकिन उनकी यह पारी नाकाफी रही। ।

यह माना जा रहा है कि खराब फार्म के बावजूद शैफाली वर्मा वेस्टइंडीज के खिलाफ प्लेइंग इलेवन में वापसी करेंगी और उनसे पारी को गति देने की उम्मीद की जाएगी, क्यों कि यास्तिका भाटिया पिछले मैच में कुछ खास नहीं कर सकीं थीं। न्यूजीलैंड के खिलाफ आखिरी मैच में भारतीय बल्लेबाजों ने 27 ओवर के बराबर 162 डॉट गेंदें खेलीं और पहले 20 ओवरों में केवल 50 रन बनाए। मुख्य कोच रमेश पोवार ने वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच की पूर्व संध्या पर संवाददाताओं से कहा, "ईमानदारी से मैं 20 ओवरों तक बल्लेबाजी करने के तरीके से हैरान था। लेकिन अगर आप पिछले छह मैचों में पीछे मुड़कर देखते हैं, तो आप पाएंगे कि हम अपनी योजनाओं को अच्छी तरह से क्रियान्वित कर रहे थे।"

अपना आखिरी टूर्नामेंट खेल रही मिताली खराब फॉर्म में है और वहीं, मंधाना के फॉर्म ने पूजा वस्त्राकर और स्नेह राणा जैसे खिलाड़ियों पर काफी दबाव डाला है। कोच पोवार ने स्पष्ट कर दिया कि वह चाहते हैं कि सीनियर अधिक जिम्मेदारी स्वीकार करें।उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि मंधाना दबाव है, मैं विश्व कप के बारे में सोचता हूं लेकिन मैं कोई बहाना नहीं देना चाहता। यह सही समय है कि आप अपना हाथ बढ़ाएं और प्रदर्शन करें, क्योंकि हम पिछले छह महीनों से प्रशिक्षण ले रहे हैं।" उन्होंने कहा,"हम इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड गए, इसलिए हमें हर अभ्यास का अवसर मिला है जिसकी आवश्यकता थी, इसलिए यह एक समूह के रूप में खड़े होने और प्रदर्शन करने का समय है।"

दूसरी तरफ, वेस्टइंडीज ने टूर्नामेंट में अच्छी शुरुआत की है और कप्तान टेलर अपनी टीम से इंग्लैंड के खिलाफ किये गए प्रदर्शन को दोहराने की उम्मीद रखती हैं। वेस्टइंडीज ने अपने पहले मैच में गत चैंपियन इंग्लैंड के खिलाफ 225 रनों के औसत स्कोर का बचाव किया था। टेलर के लिए सबसे बड़ा फायदा कई गेंदबाजी विकल्प हैं। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी मैच में आठ गेंदबाजों का इस्तेमाल किया था। शमिलिया कॉनेल, शकीरा सेलमैन, चिनले हेनरी और अनीसा का गेंदबाजी आक्रमण विपक्षी बल्लेबाजों पर लगातार दबाव बनाने में सक्षम है और यह भारत के लिए आसान नहीं होगा।

दोनों टीमें इस प्रकार हैं -

भारत: मिताली राज (कप्तान), स्मृति मंधाना, शैफाली वर्मा, हरमनप्रीत कौर, यास्तिका भाटिया, दीप्ति शर्मा, पूजा वस्त्राकर, रिचा घोष (विकेटकीपर), तानिया भाटिया (विकेटकीपर), स्नेह राणा, मेघना सिंह, राजेश्वरी गायकवाड़, पूनम यादव, झूलन गोस्वामी, रेणुका सिंह।

वेस्टइंडीज: स्टेफनी टेलर (कप्तान), अनीसा मोहम्मद (उप-कप्तान), आलिया एलेने, शेमेन कैंपबेल, शमिलिया कॉनेल, डिएंड्रा डॉटिन, एफी फ्लेचर, चेरी एन फ्रेजर, चिनेल हेनरी, किसिया नाइट, हेले मैथ्यूज, चेडियन नेशन, करिश्मा रामहरैक , शकीरा सेलमैन, राशदा विलियम्स।

Updated : 2022-03-15T15:35:48+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top