Top
Home > खेल > क्रिकेट > भारत ने रचा इतिहास, न्यूजीलैंड का टी-20 सीरीज में 5-0 से किया सफाया

भारत ने रचा इतिहास, न्यूजीलैंड का टी-20 सीरीज में 5-0 से किया सफाया

माउंट मॉनगनुई/नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम ने न्यू जीलैंड को टी-20 इंटरनैशनल सीरीज के 5वें मैच में 7 रनों से हरा दिया। माउंट माउंगानुई में मिली इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने इतिहास रच दिया है। इस तरह भारत 5 मैचों की किसी द्विपक्षीय टी20 सीरीज के सभी मैच जीतने वाली पहली टीम बन गई है।भारतीय टीम ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवरों 3 विकेट पर 163 रन बनाए। जवाब में न्यू जीलैंड की टीम 9 विकेट पर 156 रन ही बना सकी। टीम इंडिया के लिए जसप्रीत बुमराह ने 12 रन देकर 3 विकेट झटके, जबकि नवदीप सैनी और शार्दुल ठाकुर को दो-दो विकेट मिले।

न्यू जीलैंड ने अब तक अपनी मेजबानी में तीन या उससे अधिक मैचों की द्विपक्षीय टी20 सीरीज के सभी मैच नहीं गंवाए थे। साल 2005 के बाद से अपने घर पर किसी द्विपक्षीय टी20 सीरीज में सभी मैच हारने का वाकया केवल एक बार हुआ, जब फरवरी 2008 में उसे इंग्लैंड ने 2-0 से मात दी।

इससे पहले सीरीज के पहले चार मैच जीतने के कारण भारत ने कप्तान विराट कोहली को विश्राम दिया और बल्लेबाजी लाइनअप में बदलाव किए। रोहित ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। रोहित शर्मा (60) और केएल राहुल (45) की पारियों की बदौलत भारत ने न्यू जीलैंड के खिलाफ 3 विकेट पर 163 रन बनाए। रोहित ने रिटायर्ड हर्ट होने से पहले 41 गेंदों पर 60 रन बनाए, जिसमें तीन चौके और इतने ही छक्के शामिल हैं। उन्होंने केएल राहुल (33 गेंदों पर 45) के साथ दूसरे विकेट के लिए 88 रन की साझेदारी की। इनके अलावा श्रेयस अय्यर ने 31 गेंदों पर नाबाद 33 रन बनाए।

मैच में कप्तान के तौर पर वापसी करने वाले रोहित पारी का आगाज करने नहीं उतरे। उनकी जगह पारी की शुरुआत करने वाले संजू सैमसन (दो) दूसरी बार मौके का फायदा नहीं उठा पाए और दूसरे ओवर में ही शॉर्ट कवर पर कैच देकर पविलियन लौट गए। राहुल ने न्यू जीलैंड के कार्यवाहक कप्तान साउदी के पारी के तीसरे ओवर में ही एक छक्का और दो चौके लगाए और फिर स्कॉट कगलिन पर खूबसूरत छक्का लगाया।

भारत ने पावरप्ले में एक विकेट पर 53 रन बनाए। रोहित ने रन गति बनाए रखने में पूरा योगदान दिया। सैंटनर और ईश सोढ़ी पर सहजता से जमाए गए छक्के से उनके कौशल का पता चलता है। उन्होंने रिटायर्ड हर्ट होने से पहले साउदी पर चौका जड़कर 35 गेंदों पर अपना 21वां अर्धशतक पूरा किया और फिर सोढ़ी की गेंद छह रन के लिए भेजी। जब तक रोहित और राहुल क्रीज पर थे तो भारत अच्छी स्थिति में लग रहा था लेकिन स्कॉट कगलिन (25 रन देकर 2) और हामिश बेनेट (21 रन देकर 2) ने 200 के करीब स्कोर तक नहीं पहुंचने दिया।

राहुल के आउट होने से भारतीय लय गड़बड़ाई, जबकि इसके बाद रोहित पिंडली की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण पविलियन लौट गए। रोहित के बाहर लौटने के बाद भारत ने अंतिम 20 गेंदों पर केवल 25 रन बनाए। इनमें साउदी (चार ओवर 52 रन) का अंतिम ओवर भी शामिल हैं, जिसमें मनीष पांडे (चार गेंदों पर नाबाद 11) ने छक्का और चौका लगाया। अय्यर ने 12वें ओवर में क्रीज पर कदम रखने पर साउदी और मिशेल सैंटनर पर छक्के लगाए थे लेकिन डेथ ओवरों में वह अपेक्षित तेजी नहीं दिखा पाए।

164 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कीवी टीम की शुरुआत खराब रही। दूसरे ओवर में जसप्रीत बुमराह ने मार्टिन गप्टिल (5) को पगबाधा किया तो तीसरे ओवर में छक्का और चौका लगाने के बाद कोलिन मुनरो (15) वॉशिंगटन सुंदर की गेंद पर बोल्ट हो गए। पारी संभलती कि चौथे ओवर में टॉम ब्रूस (0) रन आउट हो गए। सिफर्ट नवदीप सैनी के ओवर की दूसरी बॉल पर तेजी से रन चुरान चाहते थे, लेकिन ब्रूस क्रीज में पहुंचते इससे पहले ही राहुल ने गजब की फुर्ती दिखाते हुए स्टंप्स बिखेर दिए। उनका विकेट 17 रनों के टीम स्कोर पर गिरा था।

इसके बाद टिम सिफर्ट और रॉस टेलर ने मोर्चा संभाला। इस दौरान पारी का 10वां ओवर भारतीय फैन्स के लिए दिल तोड़ने वाला रहा। इस ओवर में शिवम दुबे को 4 छक्के और 2 चौके समेत कुल 34 रन पड़े। ओवर की शुरुआत सिफर्ट ने छक्के से की। दूसरी गेंद पर भी छक्का लगाया, जबकि तीसरी गेंद पर चौका। चौथी गेंद पर एक रन लेकर सिफर्ट ने छोर बदला तो रॉस टेलर ने चौके से स्वागत किया, लेकिन यह गेंद नोबॉल रही। इसके बाद टेलर ने लगातार दो छक्के जड़ दिए। इस तरह ओवर से कुल 34 रन खर्च कर दिए। यह टी-20 इंटरनैशनल में किसी भी भारतीय का सबसे महंगा ओवर रहा। इससे पहले स्टुअर्ट बिन्नी ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ 2016 में 32 रन दिए थे।

टिम सिफर्ट और रॉस टेलर ने चौथे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी की। इस जोड़ी को नवदीप सैनी ने तोड़ा। उन्होंने टिम सिफर्ट को 50 रनों के निजी स्कोर पर आउट किया। सिफर्ट ने 30 गेंदों में 5 चौके और 3 छक्के लगाए। इसके बाद डेरिल मिशेल को दो रन के निजी स्कोर पर बुमराह ने बोल्ड करते हुए टीम इंडिया को मैच में फिर से ला दिया।

न्यू जीलैंड की हालत तब और खराब हो गई, जब शार्दुल ठाकुर ने 17वें ओवर में मिशेल सेंटनर (6) और स्कॉट (0) को 3 गेंदों के भीतर आउट कर दिया। इसके बाद मेजबान टीम की रही सही उम्मीदें भी रॉस टेलर के आउट होते ही धूमिल हो गईं। सैनी ने टेलर को राहुल के हाथों कैच कराया। वह 47 गेंदों में 5 चौके और 2 छक्के की मदद से 53 रन बनाए। इसके बाद न्यू जीलैंड का कोई भी बल्लेबाज कमाल नहीं कर सका और उसे 7 रनों की हार झेलनी पड़ी।

Updated : 2020-02-02T20:27:34+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top