Home > खेल > क्रिकेट > हॉटस्टार कह रहा आईपीएल देखने परिवार से दूर जा तू

हॉटस्टार कह रहा आईपीएल देखने परिवार से दूर जा तू

  • विवेक कुमार पाठक

हॉटस्टार कह रहा आईपीएल देखने परिवार से दूर जा तू
X

आईपीएल के मैचों से कारोबार का बाजार सजाए बैठे ऑनलाइन स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म अपने धंधे के लिए कुछ भी कहने और करने को तैयार हैं। हॉटस्टार ने तो शर्मनाक तरीके से युवाओं को परिवार से दूर जाने की सलाह दे डाली है। हॉटस्टार कह रहा है कि अगर चैन से मैच देखना चाहते हो तो सबसे पिंड छुड़ाओ और मोबाइल पर हॉटस्टार प्लेटफार्म अपनाओ।

वास्तव में हॉटस्टार को अपने इस विभाजनकारी विज्ञापन के लिए क्षमा मांगनी चाहिए। परिवार भारतीय संस्कृति का आधार है। हमारा देश सामूूहिकता में विश्वास करता है। हमारे यहां विवाह से लेकर मृत्यु तक परिवार और समाज आकर जुड़ता है। हम अकेले में नहीं साथ में आनंद पाने वाले लोग हैं। हमारे देश में तो परिवार तो छोडि़ए मोहल्ले भर के लोग एक टीवी सेट के सामने रामायण महाभारत आनंद के साथ देख चुके हैं। हम भारतीय तो वसुधैव कुुटुम्बकम के महामंत्र को अपनाने वाले लोग हैं। हम जहां जाते हैं वहीं उस धरती और समाज को अपना परिवार मानने लगते हैं। अमेरिका में भारतीय समाज निरंतर बढ़ा है मगर मजाल है कि आज तक भारतीयों ने अमेरिका में रहकर वहां की माटी से खुद को अलग माना हो। अमेरिका में गए हमारे भाई बंधु वहां के सॉफ्टवेयर कारोबार से लेकर दुनिया भर के काम शांति से कर रहे हैं। दुनिया भर के देशों में हम भारतीय फैले हैं। सबके साथ मिलजुलकर रह रहे हैं। विखंडन और अलगाव हमारे स्वभाव में ही नहीं है। हमारे यहां तो दुनिया भर के धर्म और मत मतांतर आए। हमने सबको अपने में समाहित कर लिया। इस तरह से भारत एकांत नहीं संवाद पसंद देश है।

परिवार और समाज का साथ भारत की विशेषता है। ऐसे में कारोबारी कंपनियां अपने लाभ और धंधे के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं। हॉटस्टार का यह शर्मनाक विज्ञापन इसी का एक उदाहरण है। इस विज्ञापन के संदेश पर जरा नजर कीजिए। विज्ञापन कहता है कि आईपीएल आप परिवार के साथ सुख शांति से नहीं देख सकते। परिवार के साथ मैच देखने बैठोगे तो पिता बनियान उतारकर भी बैठ सकते हैं जिससे पसीने की बदबू से मैच देखने का आपका रोमांच खराब हो सकता है। आप मैच देखोगे तो दादी मां नाखून काटकर आप पर गिरा देंगी और भी कई सदस्य ऐसे ऐसे करतब करेंगे कि मजबूरन आप मैच देखना बंद कर दोगे। ऐसे में हॉटस्टार सलाह दे रहा है कि छोड़ो ये परिवार का साथ और अकेले में आजादी से मैच देखो। हॉटस्टार अपनाओ और मोबाइल पर शांति से बिना किसी शोर शराबे के चैन से मैच देखो। तो देखिए बाजारु कंपनियां अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए कहां तक पहुंच गयीं हैं। दिमाग को काबू करने ऐसे ऐसे विज्ञापन संदेश दे रही हैं कि उनका सध जाए फिर चाहे किसी का भी वध हो जाए। तो मित्रों टीवी और सिनेमा के साथ इन विज्ञापनों पर भी नजर बनाए रखिए। आज ये परिवार का साथ छोडऩे की बात कर रहे हैं। कल मां बाप और बच्चों से दूर रहने का फायदा भी आपको बता सकते हैं। ये आज परिवार में संवाद तोड़ रहे हैं कल विवाह और समाज का ताना बाना भी तोड़ सकते हैं। इन बाजारु कारोबारी संदेशों पर कड़ी नजर रखिए।

Updated : 2020-09-20T18:53:51+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top