Home > खेल > क्रिकेट > बुमराह कम तेज गेंदबाजों में शुमार, जिन्होंने तीनों फॉर्मैट में शानदार प्रदर्शन किया हो : बिशप

बुमराह कम तेज गेंदबाजों में शुमार, जिन्होंने तीनों फॉर्मैट में शानदार प्रदर्शन किया हो : बिशप

बुमराह कम तेज गेंदबाजों में शुमार, जिन्होंने तीनों फॉर्मैट में शानदार प्रदर्शन किया हो : बिशप
X

नई दिल्ली। टीम इंडिया को हमेशा से जबर्दस्त बैटिंग ऑर्डर के लिए जाना गया है, लेकिन पिछले कुछ समय से भारतीय टीम ने तेज गेंदबाजी आक्रमण में भी अपना नाम किया है। पिछले कुछ सालों में टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया है, उसकी पूरी दुनिया में तारीफ हुई है। जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, इशांत शर्मा और भुवनेश्वर कुमार ने कप्तान विराट कोहली का काम काफी आसान कर दिया है और ये सभी दुनिया के कोने-कोने में बेहतरीन प्रदर्शन कर चुके हैं। वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज इयान बिशप ने टीम इंडिया के तेज गेंदबाजी आक्रमण की जमकर तारीफ की, लेकिन साथ ही कहा कि बुमराह अगर सभी फॉर्मैट के सभी मैच खेलते रहे, तो वो ज्यादा समय तक नहीं खेल सकेंगे।

बिशप के मुताबिक तेज गेंदबाजी की बात करें तो भारतीय क्रिकेट का यह ना युग है। बिशप का मानना है कि कोई भी टीम सिर्फ अपने स्पिनरों के दम पर जीत दर्ज नहीं कर सकती है, खासकर ओवरसीज कंडीशन्स में। उन्होंने सोनी टेन के पिट स्टॉप शो पर कहा, 'अभी जो तेज गेंदबाज हैं टीम इंडिया के पास ऐसा लगता है टीम का एक नया युग शुरू हुआ है।' उन्होंने आगे कहा, 'अगर आप दुनिया की नंबर-1 टीम होना चाहते हैं, तो आप सिर्फ अपने स्पिनरों पर निर्भर नहीं रह सकते हैं क्योंकि जब आप वेस्टर्न देशों के दौरे पर जाते हैं तो आपको तेज गेंदबाजों की जरूरत होती ही है और टीम इंडिया को वैसे तेज गेंदबाज मिल गए हैं।'

बिशप वेस्टइंडीज की ओर से 43 टेस्ट मैच और 84 वनडे इंटरनैशनल मैच खेल चुके हैं। इस शो के दौरान बिशप ने बुमराह के वर्कलोड को लेकर भी बात की। उन्होंने कहा कि अगर वो हर फॉर्मैट के सभी मैच खेलेंगे, तो आप उनसे यह उम्मीद नहीं कर सकते कि वो ज्यादा साल तक क्रिकेट खेल पाएंगे। उन्होंने कहा, 'बुमराह उन कम तेज गेंदबाजों में शुमार हैं, जिन्होंने तीनों फॉर्मैट में शानदार प्रदर्शन किया हो, लेकिन आप उनसे ज्यादा समय तक खेलने की उम्मीद नहीं रख सकते हैं, अगर वो तीनों फॉर्मैट के सभी मैच खेलते हैं। एक इंसान का शरीर इतना नहीं कर सकता है। आपको ऐसे टैलेंट को मैनेज करना आना चाहिए, क्योंकि ऐसा टैलेंट हमेशा नहीं मिलते हैं।'

Updated : 4 July 2020 8:59 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top