Home > खेल > क्रिकेट > ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 51 रनों से हराया, हैट्रिक के साथ भारत ने गंवाई वनडे सीरीज

ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 51 रनों से हराया, हैट्रिक के साथ भारत ने गंवाई वनडे सीरीज

ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 51 रनों से हराया, हैट्रिक के साथ भारत ने गंवाई वनडे सीरीज
X

सिडनी। करिश्माई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ (104) के लगातार दूसरे तूफानी शतक और सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (83), आरोन फिंच (60), मार्नस लाबुशेन (70) तथा ग्लेन मैक्सवेल (नाबाद 63) के अर्धशतकों से ऑस्ट्रेलिया ने भारत को दूसरे वनडे में रविवार को एकतरफा अंदाज में 51 रन से हराकर तीन मैचों में 2-0 की अपराजेय बढ़त बना ली। ऑस्ट्रेलिया ने 50 ओवर में चार विकेट पर 389 रन का विशाल स्कोर बनाया जो भारत के खिलाफ वनडे में उसका सर्वाधिक स्कोर है। विशाल लक्ष्य के दबाव में भारतीय टीम 50 ओवर में नौ विकेट पर 338 रन ही बना सकी। ऑस्ट्रेलिया ने पहला वनडे 374 रन बनाकर 66 रन से जीता था।

ऑस्ट्रेलिया ने 2-0 की अपराजेय बढ़त बनाकर भारत से पिछली घरेलू सीरीज में 1-2 की हार का बदला चुका लिया। भारत ने पिछले दौरे में वनडे सीरीज में सिडनी में मैच गंवाया था और इस दौरे में सिडनी में उसने लगातार दो मैच गंवाए जिससे उसे सिडनी में हार की हैट्रिक का सामना करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया को इस जीत से 10 अंक हासिल हुए और वह आईसीसी वर्ल्ड कप सुपर लीग में पांच मैचों में 40 अंकों के साथ इंगलैंड को पीछे छोड़कर दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। इंग्लैंड के खाते में छह मैचों से 30 अंक हैं। भारत का अभी खाता नहीं खुला है।

भारत की तरफ से अपना 250वां वनडे खेल रहे कप्तान विराट कोहली ने 87 गेंदों में सात चौकों और दो छक्कों की मदद से 89 रन बनाए और अपने 44वें शतक से 11 रन दूर रह गए। हालांकि अपनी इस पारी से भारतीय कप्तान ने तीनों फॉमेर्ट में 22 हजार रन पूरे करने की उपलब्धि हासिल कर ली। विराट यह कारनामा करने वाले दुनिया के आठवें खिलाड़ी बन गए हैं। लोकेश राहुल ने 66 गेंदों पर 76 रन में चार चौके और पांच छक्के उड़ाए। मयंक अग्रवाल और शिखर ने अच्छी शुरुआत के बाद अपने विकेट गंवाए। मयंक ने 26 गेंदों में चार चौकों की मदद से 28 रन, शिखर ने 23 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 30 रन, श्रेयस अय्यर ने 36 गेंदों में पांच चौकों के सहारे 38 रन, हार्दिक पांड्या ने 31 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 28 रन तथा रवींद्र जडेजा ने 11 गेंदों में एक चौके और दो छक्कों की मदद से 24 रन बनाए।

मयंक और शिखर ने पहले विकेट के लिए 58 रन जोड़े। विराट और अय्यर ने तीसरे विकेट के लिए 93 रन की साझेदारी की। विराट ने राहुल के साथ चौथे विकेट के लिए 72 रन जोड़े। राहुल और पांड्या ने पांचवें विकेट के लिए 63 रन जोड़े। विराट का कीमती विकेट जोश हेजलवुड ने लिया, जबकि राहुल को लेग स्पिनर एडम जम्पा ने हेजलवुड के हाथों कैच कराया। पैट कमिंस ने तीन खिलाड़ियों मयंक, पांड्या और जडेजा को आउट किया। कमिंस ने 67 रन पर तीन विकेट, हेजलवुड ने 59 रन पर दो विकेट और जम्पा ने 62 रन पर दो विकेट लिए।

लगातार दूसरे मैच में शतक से "प्लेयर ऑफ द मैच" बने स्मिथ ने भारत के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का सिलसिला इस मैच में भी बरकरार रखा और मात्र 64 गेंदों में 14 चौकों तथा दो छक्कों की मदद से 104 रन की बेहतरीन पारी खेली। उन्होंने 62 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। स्मिथ का यह 11 वां वनडे शतक था जिसमें से पांच तो भारत के खिलाफ बने हैं और इन पांच में से दो शतक इसी सीरीज में बने हैं। स्मिथ ने पहले वनडे में 105 रन बनाए थे।

ऑस्ट्रेलिया ने पहले वनडे के 374 रनों को दूसरे मैच में पीछे छोड़ डाला और भारत के खिलाफ अपना सबसे बड़ा स्कोर बना डाला। यह भारत के खिलाफ किसी टीम का तीसरा सबसे बड़ा स्कोर है। ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष क्रम के पांच बल्लेबाजों ने फिफ्टी प्लस का स्कोर बनाया है और वनडे में एक मैच में टॉप आर्डर के पांच बल्लेबाजों के फिफ्टी प्लस बनाने का यह तीसरा मौका है। ऑस्ट्रेलिया ने इनमें दो बार यह कारनामा भारत के खिलाफ ही किया है। ऑस्ट्रेलिया ने इससे पहले 2013 में जयपुर में भारत के खिलाफ यह कारनामा किया था।

सिडनी में ही पहले मैच में फिंच और स्मिथ ने शतक तथा वॉर्नर ने अर्धशतक बनाया था। इस मुकाबले में फिंच और वॉर्नर के साथ लाबुशेन और मैक्सवेल ने भी अर्धशतक बना डाले। वॉर्नर ने 77 गेंदों पर 83 रन में सात चौके और तीन छक्के लगाए, जबकि फिंच ने 69 गेंदों पर 60 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया। मार्नस लाबुशेन ने भी रनों की बहती गंगा में हाथ धोते हुए 61 गेंदों पर 70 रन में पांच चौके लगाए। आलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी का सिलसिला जारी रखते हुए मात्र 29 गेंदों पर नाबाद 63 रन में चार चौके और चार छक्के उड़ाए।

भारतीय गेंदबाजों ने लगातार दूसरे मैच में खराब प्रदर्शन किया और पहले मैच के मुकाबले ज्यादा रन लुटा डाले। जसप्रीत बुमराह फिर महंगे साबित हुए और 10 ओवर में 79 रन देकर लाबुशेन का विकेट ले पाए। मोहम्मद शमी ने नौ ओवर में 73 रन लुटाकर फिंच का विकेट लिया। नवदीप सैनी ने सात ओवर में 70 रन लुटाए। लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने नौ ओवर में 71 रन खाए। लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा को 10 ओवर में 60 रन पड़े। हार्दिक पांड्या ही भारतीय गेंदबाजों में बेहतर साबित हुए और उन्होंने चार ओवरों में 24 रन देकर स्मिथ का विकेट लिया। मयंक अग्रवाल ने भी एक ओवर डाला और 10 रन दिए। वॉर्नर रन आउट हुए।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे ऑस्ट्रेलिया को वॉर्नर और फिंच ने लगातार दूसरी शतकीय साझेदारी दी। दोनों ने पहले विकेट के लिए 142 रन जोड़े। स्मिथ और लाबुशेन ने तीसरे विकेट के लिए 136 रन की साझेदारी की। लाबुशेन और मैक्सवेल ने चौथे विकेट के लिए 80 रन जोड़े और ऑस्ट्रेलिया को 389 के रिकॉर्ड स्कोर तक पहुंचा दिया।

भारत प्लेइंग XI: शिखर धवन, मयंक अग्रवाल, विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, नवदीप सैनी

ऑस्ट्रेलिया प्लेइंग XI: आरोन फिंच (कप्तान), डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ, मार्नस लाबुशेन, ग्लेन मैक्सवेल, एलेक्स कैरी, मोइसेस हेनरिक्स, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड, मिशेल स्टार्क, एडम जाम्पा

Updated : 2021-10-12T16:39:56+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top