Home > राज्य > मध्यप्रदेश > सतना > कमलनाथ के बिगड़े बोल, कहा - मेरा भारत महान नहीं बदनाम, भाजपा सांसद ने की निंदा

कमलनाथ के बिगड़े बोल, कहा - मेरा भारत महान नहीं बदनाम, भाजपा सांसद ने की निंदा

कमलनाथ के बिगड़े बोल, कहा - मेरा भारत महान नहीं बदनाम, भाजपा सांसद ने की निंदा
X

सतना। जिले के मैहर में शुक्रवार को मध्‍यप्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने एक बार फिर विवादित बयान दिया। कोरोना से मौत के आंकड़ों पर वह लगातार केंद्र और राज्य की सरकार को घेर रहे हैं। सतना जिले के मैहर में कमलनाथ ने फिर से एक विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि भारत महान नहीं, भारत बदनाम है। सब देशों ने रोक लगाई है कि भारत के लोग नहीं आ सकते हैं।

जानकारी के अनुसार कमलनाथ ने मैहर में मां शारदा देवी के सीढ़ी के नीचे से दर्शन किए। पूजा अर्चना करने के पश्चात मैहर सर्किट हाउस में पहुंचकर पत्रकारों से मुखातिब हुए। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने केंद्र की मोदी एवं प्रदेश की शिवराज सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कई सवाल दागे हैं। सरकार पर आंकड़े छुपाने का भी आरोप लगाया है। इस दौरान उन्होंने शिवराज की सरकार पर कई वार किए हैं।'इंडियन कोरोना' वाले बयान पर पहले से घिरे कमलनाथ ने मीडिया से कहा कि भारत महान नहीं, मेरा भारत बदनाम है। सभी देश के लोग भारत से जाने वाले लोगों को रोक रहे हैं। कमलनाथ ने कहा कि किसी ने मुझे न्यूयॉर्क से फोन किया कि भारत के जो लोग टैक्सी चला रहे हैं, उनकी टैक्सी पर कोई नहीं बैठ रहा है

सांसद गणेश सिंह ने की निंदा -

सांसद गणेश सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान की निंदा की । यह शब्द कहने के पहले कमलनाथ जी को सोचना चाहिए की देश के 130 करोड़ लोगों को कैसे अपमानित कर रहे हैं, भारत पहले से महान था आज भी महान है, यह सही बात है कि कमलनाथ जैसे कांग्रेस के कई नेता देश की छवि को धूमिल करने का प्रयास कर रहे है जिसकी हर भारतवासी निंदा करता है। कह रहे है कि दूसरे देशों में भारत के लोग जो टेक्सी चलाते हैं उनकी टेक्सी में लोग नहीं बैठते ऐसा दुस्प्रचार किस आधार पर किस प्रमाण के साथ वो कर रहे हैं ये देश की जनता जानना चाहती है। ये प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को एक्टर बता रहें हैं।

शायद वह भूल गये अपने कार्यकाल को जब जनता उनसे मिलने को तरसती थी शिवराज सिंह ने तो कोरोना महामारी को सफलता पूर्वक जिस तरह से काबू में किया यह उनके सक्रियता तथा प्रदेश के गांव तथा शहरों में आपदा प्रबंध जनभागीदारी समितियाँ बनाकर जिस तरह सफल प्रयोग किया जिसकी पूरे देश में प्रशंसा की है। कोरोना महामारी में स्वयं कमलनाथ जी ने नेता प्रतिपक्ष होते हुए क्या किया है। यह देश की जनता जानना चाहती है।मैं उनके इस बयान की निंदा करता हूँ और इन्हें भारत जैसे महान देश को बदनाम देश कहने पर तत्काल देशवासियों से माफी मांगनी चाहिए।

Updated : 2021-10-12T16:10:42+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top