Latest News
Home > धर्म > सांस्कृतिक और अध्यात्मिक ऊर्जा का संग्राहक है सावन माह

सांस्कृतिक और अध्यात्मिक ऊर्जा का संग्राहक है सावन माह

डॉ मृत्युञ्जय तिवारी

सांस्कृतिक और अध्यात्मिक ऊर्जा का संग्राहक है सावन माह
X

वेबडेस्क। सावन माह की शरूआत हो चुकी है सावन के आते ही देश के सभी जगहों पर कावड़ यात्रा के साथ मंदिरो में बम बम भोले की जयकार गूंजने लगती है । वैदिक पंचांग का यह पांचवा महीना होता है । इस माह देशभर के शिव मंदिरों में भक्त भोलेनाथ की पूजा करने के लिए पहुचते है । श्री कल्लाजी वैदिक विश्वविद्यालय के ज्योतिष विभागाध्यक्ष डॉ मृत्युञ्जय तिवारी ने बताया कि धार्मिक दृष्टि से सावन माह का विशेष महत्व है । पौराणिक कथाओं के अनुसार समुद्र मंथन के समय जिस विष को पीकर भगवान शिव ने विश्व को बचाया था, उसी के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने के लिए और भगवान शिव से ऐसे ही रक्षा करने के लिए सावन मास में प्रार्थना की जाती है । सावन मास में भगवान शिव की उपासना करने से अच्छे भाग्य, धन, ऐश्वर्य और अच्छे स्वास्थ्य का आशीर्वाद प्राप्त होता है । इस माह में सावन सोमवार व्रत और मंगला गौरी व्रत तो आते ही हैं, इनके अलावा प्रमुख व्रत और त्योहारों में रक्षाबंधन, हरियाली तीज, नाग पंचमी, श्रावण अमावस्या, कामिका एकादशी, वरलक्ष्मी व्रत, पुत्रदा एकादशी आदि भी प्रमुख हैं ।

इस बार 2022 में सावन के प्रमुख व्रत और त्योहार इस प्रकार होंगे -

  • 14 जुलाई गुरुवार से सावन मा​​ह शुरु होगा,
  • 14 जुलाई 2022, गुरुवार- कांवड़ यात्रा
  • 15 जुलाई 2022, शुक्रवार- जया पार्वती व्रत जागरण
  • 16 जुलाई 2022, शनिवार- जय पार्वती व्रत समाप्त, कर्क संक्रांति, संकष्टी चतुर्थी
  • 20 जुलाई 2022, बुधवार- बुध अष्टमी व्रत, कालाष्टमी
  • 24 जुलाई 2022, रविवार- वैष्णव कामिका एकादशी, कामिका एकादशी, रोहिणी व्रत
  • 25 जुलाई 2022, सोमवार - प्रदोष व्रत, सोम प्रदोष व्रत
  • 26 जुलाई 2022, मंगलवार- मासिक शिवरात्रि, सावन शिवरात्रि
  • 28 जुलाई 2022, गुरुवार- अमावस्या, हरियाली अमावस्या
  • 31 जुलाई 2022, रविवार- हरियाली तीज
  • 01 अगस्त 2022, सोमवार- चतुर्थी व्रत, सोमवार व्रत
  • 02 अगस्त 2022, मंगलवार- नाग पंचमी
  • 05 अगस्त 2022, शुक्रवार- दुर्गा अष्टमी व्रत
  • 08 अगस्त 2022, सोमवार- श्रावण पुत्रदा एकादशी
  • 09 अगस्त 2022, मंगलवार- भौम प्रदोष व्रत, प्रदोष व्रत
  • 11 अगस्त 2022, गुरुवार- पूर्णिमा व्रत, श्री सत्यनारायण पूजा, रक्षा बंधन, श्री सत्यनारायण व्रत
  • 12 अगस्त 2022, शुक्रवार- नराली पूर्णिमा, पूर्णिमा, वरलक्ष्मी व्रत

सावन 2022 में पड़ने वाले सोमवार

  • सावन का पहला सोमवार- 18 जुलाई 2022
  • सावन का दूसरा सोमवार- 25 जुलाई 2022
  • सावन का तीसरा सोमवार- 01 अगस्त 2022
  • सावन का चौथा सोमवार- 08 अगस्त 2022

श्रावण पूर्णिमा व्रत, वरलक्ष्मी व्रत इन सभी व्रतों में सावन सोमवार और मंगला गौरी व्रत की प्रतीक्षा पूरे साल लोगों को रहती है, वैसे ही रक्षाबंधन, हरियाली तीज जैसे त्योहार इस माह का महत्त्व बढ़ा देते हैं । मंगला गौरी व्रत और हरियाली तीज व्रत अखंड सौभाग्य की कामना से किया जाता है और जीवनसाथी की लंबी आयु के लिए ये व्रत रखते हैं । बहनों और भाइयों को रक्षाबंधन त्योहार की वर्ष भर प्रतीक्षा रहती है । रक्षाबंधन को राखी भी कहते हैं । इस दिन बहनें भाइयों को राखी बांधती हैं और उनसे रक्षा का वचन लेती हैं ।

Updated : 16 July 2022 7:41 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top