Home > धर्म > साल का आखिरी चंद्रग्रहण 19 नवंबर को पड़ेगा, जानिए किस राशि...पर क्या होगा... प्रभाव

साल का आखिरी चंद्रग्रहण 19 नवंबर को पड़ेगा, जानिए किस राशि...पर क्या होगा... प्रभाव

  • भारत में सूतक मान्य नहीं
  • डॉ. मृत्युञ्जय तिवारी ज्योतिष विभाग, श्री कल्लाजी वैदिक विश्वविद्यालय चित्तौड़गढ़, राजस्थान

साल का आखिरी चंद्रग्रहण 19 नवंबर को पड़ेगा, जानिए किस राशि...पर क्या होगा... प्रभाव
X

वेबडेस्क। इस वर्ष 19 नवंबर को लगने वाला चंद्रग्रहण साल का आखिरी चंद्र ग्रहण होगा । भारतीय समयानुसार 19 नवंबर को सुबह 11 बजकर 34 मिनट से चंद्रग्रहण आरंभ हो जाएगा । यह ग्रहण शाम 5 बजकर 33 मिनट तक रहेगा।भारतीय ज्योतिष के अनुसार 2021 का आखिरी चंद्र ग्रहण कार्तिक शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को लगेगा । चंद्र ग्रहण का धार्मिक दृष्टि से अधिक महत्व है । इस ग्रहण को भारत समेत अमेरिका, उत्तरी यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, प्रशांत महासागर और पूर्वी एशिया के कुछ हिस्सों में देखा जा सकेगा।

उपछाया चंद्र ग्रहण -

उपछाया चंद्रग्रहण में चंद्रमा के आकार का कोई परिवर्तन नहीं होता है। यह सामान्य दिनों की तरह ही नजर आएगा लेकिन आप गौर से देखेंगे तो मटमैला रंग का नजर जरूर आएगा। यह वास्तविक चंद्रग्रहण नहीं होता है इसलिए पृथ्वी पर चंद्रमा की छाया न पड़कर उपछाया मात्र पड़ती है । अर्थात एक धुंधली सी छाया नजर आएगी ।

साल का आखिरी चंद्र ग्रहण वृषभ राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा । वृषभ राशि के पति ग्रह शुक्र और कृतिका नक्षत्र के स्वामी ग्रह सूर्यदेव हैं । इस समयावधि में सूर्य और शुक्र से संबंधित राशियों पर चंद्र ग्रहण का ज्यादा प्रभाव पड़ेगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रहण के समय ग्रहों के राजा सूर्य वृश्चिक और शुक्र धनु राशि पर गोचर संचार करेंगे । भारत में यह उपछाया ग्रहण होने के कारण सूतक काल मान्य नहीं होगा।

भारत में सूतककाल मान्य नहीं होगा -

भारत में चंद्रग्रहण दिखाई नहीं देने के कारण इसका सूतक काल मान्य नहीं होगा । ग्रहण के समय सूतक काल का विशेष महत्व होता है । सूतककाल में कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है । सूतक में पूजा-पाठ और भोजन करना वर्जित होता है । सूतक में भगवान का स्मरण और मंत्रों का लगातार जाप करना चाहिए । गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के समय विशेष सावधानी बरतनी चाहिए । वर्ष 2021 का पहला चंद्र ग्रहण 26 मई 2021 को लगा था । शास्त्रों के अनुसार जब ग्रहण पूर्ण होता है तो उसका प्रभाव अधिक होता है । जब पूर्ण चंद्र ग्रहण होता है तभी सूतक के नियमों का पालन करने के निर्देश दिए जाते है । लेकिन अगर उपछाया ग्रहण हैं तो इसमें सूतक के नियमों का अधिक पालन नहीं किया जाता है ।

इन राशियों पर होगा विशेष प्रभाव -

2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण तुला, कुंभ और मीन राशि वालों पर शुभ प्रभाव डालेगा । इस समयावधि में आपको करियर में नए अवसर प्राप्त हो सकते हैं । नौकरी में स्थान परिवर्तन के योग बनेंगे। कारोबारियों को लाभ हो सकता है।

इन राशियों को रहना होगा सावधान

यह चंद्रग्रहण वृषभ राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा। ऐसे में वृषभ राशि के जातक सावधानियां बरतें । इसके अलावा मेष, कन्या, तुला और धनु राशि पर भी चंद्र ग्रहण का प्रभाव रहेगा ।


Updated : 2021-11-12T14:29:54+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top