Home > धर्म > छोटी दीपावली पर इस शुभ घड़ी में करें पूजन, नरकासुर वध से जुड़ी है कथा

छोटी दीपावली पर इस शुभ घड़ी में करें पूजन, नरकासुर वध से जुड़ी है कथा

छोटी दीपावली पर इस शुभ घड़ी में करें पूजन, नरकासुर वध से जुड़ी है कथा
X

वेबडेस्क। देश भर में आज छोटी दीपावली मनाई जा रही है। छोटी दीपावली हिन्दू मान्यताओं में नरक चौदस भी कहा जाता है, जिसे धनतेरस के अगले दिन मनाया जाता है। यह कार्तिक मास कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाई जाती है।

इस साल दीपावली पर पूजा का मुहूर्त सुबह 09:02 बजे से अगले दिन सुबह 06:03 बजे तक रहेगा। इस दिन को रूप चौदस भी कहते है। इस दिन महिलाएं सजने, संवरने का कार्य करती है। मान आजाता है की इस दिन अभ्यंगा स्नान से आत्मा की शुद्धि होती है। इस साल पवित्र स्नान का मुहूर्त सुबह 5 बजकर 40 मिनट से 6 बजकर तीन मिनट तक रहेगा।

हिन्दू मान्यता -

हिंदू मान्यताओं के अनुसार, नरकासुर नाम का एक दैत्य था। अपनी शक्ति से इंद्र, वरुण, अग्नि, वायु आदि सभी देवताओं को परेशान कर दिया। वह संतों को भी सताने लगा। उसने विभिन्न राजाओं और संतों की 16 हजार लड़कियों को बंदी बना लिया था। जब उसका अत्याचार बढ़ गया तो संतों ने भगवान कृष्ण से मुक्ति दिलाने का आश्वसान दिया।भगवान कृष्ण ने अपनी सत्यभामा के साथ मिलकर नरकासुर का वध किया। नरकासुर के अंत के बाद लोगों ने नरक चौदस के रूप में मनाया जाने लगा। ये देश के सभी इलाकों में मनाया जाता है, सिर्फ नाम अलग अलग है.

Updated : 2021-11-05T22:58:42+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top