Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : केजरीवाल

कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : केजरीवाल

कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : केजरीवाल

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कोरोना वायरस से संबंधित दिल्ली के हालात और तैयारियों की जानकारी दी। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में 4 लाख लोगों को भोजन कराने की व्यवस्था की गई है। हमने बेघर और जरूरतमंद लोगों के लिए भोजन प्रदान करने के लिए 825 से अधिक केंद्र स्थापित किए हैं।

इसके अलावा, हमने आज से कम से कम 4 लाख लोगों को खिलाने की क्षमता का निर्माण किया है। हम 500 से अधिक स्कूलों और 238 रैन बसेरों में भोजन वितरित कर रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं उन लोगों से अनुरोध करता हूं जो पलायन कर रहे हैं और अपने घर वापस जा रहे हैं, कृपया दिल्ली न छोड़ें। मैं तुम्हारे लिए सारी व्यवस्था कर दूंगा। हम आपको भोजन और आश्रय प्रदान करेंगे, कृपया दिल्ली न छोड़ें।

केजरीवाल ने कहा कि अगर हम लॉकडाउन का पालन नहीं करते हैं तो यह बीमारी पूरे भारत में फैल जाएगी और गाँव भी इससे प्रभावित होंगे। उन्होंने कहा कि मैं गुरद्वारों, इस्कॉन मंदिर और बाकी सामाजिक संगठनों का शुक्रिया अदा करता ह जो भूखे लोगों को खाना खिला रहे हैं।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि लोगों को खाने की कोई दिक्कत न हो इसके लिए हमने 1000 दुकानों में राशन वितरण का काम शुरू कर दिया है। प्रत्येक व्यक्ति को 7.5 किलो राशन मिलेगा, जिसमें गेहूं और चावल दोनों शामिल होंगे। हम दिल्ली के 72 लाख लोगों को मुफ्त में राशन मुहैया कराएंगे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, दिल्ली में अब तक कोरोना वायरस के कुल 39 मामले हैं। वहीं दिल्लीवासियों को राहत देते हुए दिल्ली पुलिस ने शनिवार को कहा कि 21 दिन के बंद के दौरान लोग आने-जाने संबंधी पास के लिए उसकी वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक आवेदक दिल्ली पुलिस की वेबसाइट पर जाकर कर्फ्यू पास या आवागमन पास के लिए आवेदन कर सकते हैं। आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए बंद के दौरान बिना किसी परेशानी के आवागमन के संबंध में पास जरूरी है।

Updated : 28 March 2020 2:16 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top