Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > प्रगति मैदान में विश्व पुस्तक मेला-2020 की धूम

प्रगति मैदान में विश्व पुस्तक मेला-2020 की धूम

डा. रमेश पोखरियाल कल करेंगे उद्घाटन देश-विदेश के विद्वान लगाएंगे पुस्तकों का स्टाॅल

प्रगति मैदान में विश्व पुस्तक मेला-2020 की धूम

नई दिल्ली। राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारत आईटीपीओ के सहयोग से विश्व पुस्तक मेले के 28वें संस्करण का आयोजन करने जा रहा है। चार से 12 जनवरी तक प्रगति मैदान में चलने वाले इस मेले का शनिवार को मानव संशाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' उद्घाटन करेंगे। इस अवसर पर प्रख्यात गांधीवादी विद्वान गिरीश्वर मिश्र मुख्य अतिथि होंगे। मेले में आकर्षण के कई बिंदु होंगे लेकिन केंद्र बिंदु होंगे महात्मा गांधी। गांधी जी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में उनके जीवन के कई पहलुओं को केंद्र मानकर थीम विकसित किया गया है। मेले के आयोजन का मुख्य उद्देश्य पुस्तकं की संस्कृति विकसित करने के लिए एक उपयुक्त वातावरण निर्मित करना है जिसके माध्यम से लोग पुस्तकों की ओर उन्मुख हों।

न्यास के अध्यक्ष प्रोफेसर गोविंद प्रसाद शर्मा ने गुरूवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि प्रगति मैदान में नौ दिन तक चलने वाले इस मेले में देश-विदेश की जानी मानी हस्तियां भाग ले रहीं है। अलग-अलग विधाओं के मूर्धन्य विद्वान अपनी उपस्थिति दर्ज कराने पहुंच रहे हैं। जिसके तहत संगोष्ठी, वाद-विवाद, परिचर्चा, भाषण, प्रतियोगिता, सांस्कृतिक कार्यक्रम व व्यापारिक चर्चाएं होंगी। मेले के आयोजन को सफल बनाने के लिए देशभर से आए 600 से अधिक प्रकाशक लगभ्ज्ञग 1300 स्टाॅलो ंपर विभिन्न भाषाओं, यथा- बांग्ला, अंग्रेजी, गुजराती, हिंदी, मैथिली, मलयालम, पंजाबी, संस्कृत, सिंधी, तमिल, तेलगू व उर्दू की पुस्तकें प्रदर्शित करेंगे।

आईटीपीओ के प्रबंध निदेशक एलसी गोयल ने बताया कि महात्मा गांधी एक सफल लेखक, संपादक व प्रकाशक थे। उन्होंने गुजराती, हिन्दी, अंगे्रजी व अन्य भाषाओं में लिखा। उनके लेखन ने न केवल अहिंसा और शांति के उनके दर्शन को प्रतिबिम्बित किया बल्कि देश के सामाजिक-आर्थिक और राजनैतिक परिदृश्य को भी एक अंतर्दृष्टि प्रदान की।

बाल मंडप:- बच्चों एवं युवाओं में पुस्तकों एवं पठन के प्रसार के लिए बाल मंडप सजाया गया है, जहां संगोष्ठियां, पैनल चर्चाओं से लेकर रचनात्मक लेखन, कथावाचन, सृजनात्मक लेखन जैसी प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। इन गतिविधियों में अनेक स्कूल व स्वयंसेवी संगठन भाग लेंगे।

विशेष फोटो प्रदर्शनी - भारतीय पुस्तकों एवं लेखकों का विदेशों में प्रोन्नयन करने हेतु एनबीटी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहा है। एनबीटी द्वारा प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय पुस्तक मेलों जैसे शारजाह अंतर्राष्ट्रीय पुस्तक मेला, लंदन पुस्तक मेला फैं्रकफर्ट पुस्तक मेला आदि में नियमित रूप से भाग लिया जाता रहा है। इससे संबंधित फोटो प्रदर्शनी का एक विशेष स्टाल लगाया गया है। आकाशवाणी, दूरदर्शन और दिल्ली मैट्रो रेल कार्पाेरेशन, डीएमआरसी मेले में अपनी सहभागिता प्रदान कर रहा है।

Updated : 2 Jan 2020 1:51 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top