Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री बोले- कम्यूनिटी स्प्रेड शुरू, केंद्र सरकार अभी इसे मानने को तैयार नहीं

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री बोले- कम्यूनिटी स्प्रेड शुरू, केंद्र सरकार अभी इसे मानने को तैयार नहीं

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री बोले- कम्यूनिटी स्प्रेड शुरू, केंद्र सरकार अभी इसे मानने को तैयार नहीं

दिल्ली। दिल्ली में तेजी बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण के मामले अब 30 हजार के करीब पहुंच चुके हैं। राजधानी में पिछले कुछ दिन से प्रतिदिन 1000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं। इसे देखते हुए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को बताया कि हम उम्मीद कर रहे थे कि निजी अस्पतालों में उपलब्ध बेड 15 दिनों तक के मरीजों के लिए पर्याप्त रहेंगे, लेकिन COVID-19 रोगियों के लिए आरक्षित अधिकांश बेड 4-5 दिनों में ही भर गए हैं। हमें अब बेड्स की क्षमता को और बढ़ाना होगा।

जैन ने कहा कि, दिल्ली एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कोरोना वायरस के कम्युनिटी स्प्रेड होने की बात कही है, लेकिन केंद्र सरकार आधिकारिक तौर पर अभी इसे स्वीकार नहीं कर रही है।

उन्होंने बताया कि कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड तब होता है जब ऐसे मामले होते हैं, जिनमें संक्रमण के स्रोत का पता नहीं लगाया जा सकता है। हमारे यहां लगभग आधे मामले ऐसे ही हैं, जिनमें इस वायरस के स्रोत का पता नहीं लग सका है। लेकिन हम इसे कम्युनिटी स्प्रेड तभी कह सकते हैं, जब केंद्र सरकार इसे स्वीकार करेगी। उन्होंने कहा कि उपराज्यपाल से साथ राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की मीटिंग में भी इस मुद्दे को उठाया जाएगा।

बता दें कि, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के आवास पर कोविड-19 की स्थिति पर राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक के लिए और 'क्या यह कम्युनिटी स्प्रेड है' इस पर चर्चा करने के लिए पहुंच गए हैं। COVID-19 की स्थिति पर चर्चा के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल आज सभी राजनीतिक दलों के साथ बैठक भी करेंगे।

दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस के 1,007 नए मरीज सामने आए। इसके बाद राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमितों की संख्या करीब 30 हजार तक पहुंच गई, जबकि संक्रमण ने अब तक 874 लोगों की जान ले ली है। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में 30 मई से छह जून के बीच 62 संक्रमितों की मौत हुई। इनमें से 27 की मौत पांच जून को हुई। इन मौतों की खबर सात जून को मिली। दिल्ली में कोविड-19 के सबसे ज्यादा 1513 मामले तीन जून को आए थे।

स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को एक हेल्थ बुलेटिन में कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या 874 हो गई है और कोविड-19 के कुल मामले 29,943 हो गए हैं। इसमें कहा गया है कि विभिन्न अस्पतालों से मिली जानकारी के आधार पर, मृत्यु ऑडिट समिति के मुताबिक मृतकों की संख्या में उन मौतों को शामिल किया जाता है जिसमें मृत्यु का प्राथमिक कारण कोविड-19 मालूम पड़ता है।

हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, अब तक 11,357 मरीज संक्रमण से ठीक हो चुके हैं जबकि 17,172 रोगी इलाज करा रहे हैं। इसमें कहा गया है कि अबतक कोविड-19 के 2,55,615 नमूनों की जांच की गई है।

हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, 13,405 संक्रमित मरीज होम आइसोलेशन में हैं। 248 मरीज वेंटिलेटर या आईसीयू में हैं। शहर में कंटेनमेंट जोन की संख्या सोमवार को बढ़कर 183 हो गई है जो रविवार को 169 थी।

Updated : 9 Jun 2020 7:47 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top