Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > दिल्ली में कोरोना केस के दोगुने होने की रफ्तार में आई कमी, पढ़े पूरी खबर

दिल्ली में कोरोना केस के दोगुने होने की रफ्तार में आई कमी, पढ़े पूरी खबर

दिल्ली में कोरोना केस के दोगुने होने की रफ्तार में आई कमी, पढ़े पूरी खबर

दिल्ली। दिल्ली में कोरोना वायरस के पिछले 24 घंटों में 406 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 13 लोगों को इस बीमारी की वजह से अपनी जान गंवानी पड़ी है। इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 7639 हो गई है और मरनेवालों की तादाद 86 तक पहुंच चुकी है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने मंगलवार (12 मई) को यह जानकारी दी।

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि दिल्ली में कोरोना केस के दोगुने होने की रफ्तार में कमी आई है। पहले यह 3 या 4 दिन था, जो कि अब 11 दिन हो चुका है। मतलब कि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के मामले पहले 3 से 4 दिन में डबल हो जाते थे, लेकिन अब यह करीब 11 दिनों में होता है।

अच्छी खबर यह है कि अब तक दिल्ली में कोरोना के कुल 2512 रोगी अभी तक ठीक हो चुके हैं। इनमें से 383 रोगियों को सोमवार (11 मई) से मंगलवार (12 मई) के बीच अस्पताल से छुट्टी दी गई है। शहर में कुल 5041 कोरोना के एक्टिव रोगी हैं।

दिल्ली सरकार ने कोरोना के विषय में लिखित जानकारी साझा करते हुए कहा, "कोरोना से मरने वालों में सबसे अधिक 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र के व्यक्ति हैं। दिल्ली में ऐसे कुल 1133 व्यक्तियों को कोरोना वायरस हुआ है, जिनमें से अब तक तक 45 की मृत्यु हो चुकी है। वहीं 50 से 60 वर्ष की उम्र के 1172 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, इनमें से 26 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है। सबसे अधिक कोरोना रोगी 50 वर्ष या उससे कम उम्र के व्यक्ति हैं। 50 वर्ष से कम उम्र के 5336 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से 15 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है।"

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा, "कोरोना तो है और अभी बहुत समय तक रहने वाला है। ऐसा नहीं है कि कोरोना एक-दो महीने में खत्म हो जाएगा। कोरोना को रोकने के लिए दिल्ली सरकार की तरफ से काफी कुछ किया गया है। पहले किसी को यह अंदाजा नहीं था कि कोरोना वायरस किस तरह का व्यवहार करता है और यह कैसे काम करता है। हमारे देश में और अन्य देशों में बहुत कुछ फर्क तो है। हमारे देश में कोरोना का खतरा अमेरिका के मुकाबले कम लगता है।"

दिल्ली में कोरोना के 111 रोगी आईसीयू में हैं, जबकि उसमें से 20 लोग वेंटिलेटर पर हैं। दिल्ली सरकार के मुताबिक बाकी देशों में बहुत बड़ी संख्या में मरीज वेंटिलेटर पर और आईसीयू में हैं। गौरतलब है कि दिल्ली में अभी तक 1,06,109 टेस्ट किए जा चुके हैं। दिल्ली सरकार उन सभी इलाकों को हॉटस्पॉट मानकर सील कर रही है जहां कोरोना के 3 से अधिक मामले एक साथ पाए गए हैं।

दिल्ली में अब कुल 82 कोरोना कंटेनमेंट जोन है। इन इलाकों को दिल्ली सरकार ने दिल्ली पुलिस की मदद से पूरी तरह सील कर दिया है। किसी भी कोरोना कंटेनमेंट जोन या कोरोना हॉटस्पॉट में बाहर का कोई व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकता। इसी तरह इन कंटेनमेंट जोन में रह रहे लोग भी इस इलाके से बाहर नहीं आ सकते। ऐसा इसलिए किया गया है, ताकि कोरोना का संक्रमण इन क्षेत्रों से निकलकर अन्य इलाकों में न फैल सके।

Updated : 12 May 2020 1:09 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top