Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > मरकज और जमातियों के खाते क्राइम ब्रांच की रडार पर, विदेशों से आता था पैसा

मरकज और जमातियों के खाते क्राइम ब्रांच की रडार पर, विदेशों से आता था पैसा

मरकज और जमातियों के खाते क्राइम ब्रांच की रडार पर, विदेशों से आता था पैसा

नईदिल्ली। देश भर में कोरोना संक्रमण के फैलाव को लेकर चर्चा में आये मौलाना साद और उसके बेटों समेत मरकज के 11 बैंक अकाउंट सहित 125 संदिग्ध बैंक अकाउंट क्राइम ब्रांच की रडार पर आ गए है। जांच के दौरान एजेंसियों को पता चला है कि ये अकाउंट्स उन जमातियों के है, जिनके बैंक अकाउंट में जनवरी से मार्च महीनों के बीच विदेशों से काफी पैसा आया था। जोकि बाद में दूसरे बैंक अकाउंट्स में ट्रांसफर किया गया है।

क्राइम ब्रांच द्वारा तैयार की गई इस लिस्ट में कुछ विदेशों से आए जमाती भी हैं।जानकारी के अनुसार क्राइम ब्रांच को संदेह है की इन बैंक अकाउंट्स का उपयोग विदेशों से आने विदेशी मुद्रा को हवाला के जरिये भारतीय मुद्रा में परिवर्तन करने के लिए किया जाता है।ताकि बैंक की गाइडलाइंस के मुताबिक किसी को कोई शक भी नहीं होगा। क्राइम ब्रांच के संदेह के घेरे में आये सभी अकाउंट्स के अकाउंट होल्डरों की पहचान करने में जुटी हुई है।बताया जा रहा है की मरकज के खर्चों के लिए पैसे सऊदी अरब और मिडल ईस्ट के देशों से मरकज को हवाला के जरिए मिलता था।

विदेशों में रहने वाले आर्थिक रूप से सम्पन्न लोगों द्वारा मरकज में रहने वाले जमातियों के लिए पैसा 50,000 रूपए प्रतिदिन के हिसाब से मिलता है। प्रतिदिन के हिसाब से मिलने वाली ये राशि साल के 365 दिनों से गुणा करने पर काफी बड़ी राशि बन जाती है। जोकि इन विभिन्न अकाउंट्स के माध्यम से आती थी।



Updated : 2020-05-03T19:46:22+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top